FEATUREDसोनभद्र

कोयले का काला खेल करते दो ट्रेलर धराए, पुलिस जांच में जुटी।

उमेश सागर की रिपोर्ट।

कोयले का काला खेल करते दो ट्रेलर धराए, पुलिस जांच में जुटी। अवैध कोयले के आरोप में दो ट्रेलर धाराए, पुलिस जांच में जुटी। अवैध कोयले का परिवहन करने की सूचना प्राप्त होने पर शक्तिनगर थाना प्रभारी निरीक्षक नागेश कुमार सिंह ने मुस्तैदी दिखाते हुए अधूरे कागजात प्राप्त होने पर दो कोयला लदे ट्रेलरों को पकड़ कर थाने ले आए।

अवैध कोयला के कारोबार के आरोप में जांच करने हेतु संदिग्ध युवक को गिरफ्तार कर थाने में पूछताछ जारी है। पूरे प्रकरण की जांच पिपरी क्षेत्राधिकारी प्रदीप सिंह चंदेल के कुशल मार्गदर्शन में जारी है।

ट्रेलर गाड़ी संख्या यूपी 64 टी 5802 और यूपी 64 टी 7759 को अधूरे कागजात के साथ कोयला परिवहन करते पकड़ कर शक्तिनगर थाने में खड़ा कराया गया है। अवैध कोयला कारोबार से जुड़े गुर्गे हिरासत में लिए गए आरोपियों को छुड़ाने की जुगत में लगे हुए देखे गए। प्राप्त जानकारी अनुसार अवैध कोयला कारोबार के आरोप में अवधेश शाह निवासी विंध्यनगर जिला सिंगरौली को मारुति ब्रेजा गाड़ी संख्या जेएच 02 एजेड 9540 को हिरासत में लिया गया है।

कोयले का काला खेल करते दो ट्रेलर धराए, पुलिस जांच में जुटी।

कोयला लदे दोनों ट्रेलर फर्जी नंबर के साथ अवैध कोयले के कारोबार से जुड़े हुए थे। वहीं सूत्रों की माने तो अवैध कोयले की खेप अनपरा ले जाई जा रही थी, जहां से फर्जी कागजात के सहारे कोयले को वाराणसी मंडी पहुंचा दिया जाता। लेकिन काले हीरे के काले खेल से जुड़े माफियाओं के मंसूबे पर शक्तिनगर पुलिस ने पानी फेर दिया।

विगत दिनों कृष्णशिला रेलवे साइडिंग पर अवैध एक मिलियन टन कोयला सीज करते हुए जिला प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की थी। ‌वहीं पिछले सप्ताह दुद्धीचुआ कोयला खदान कांटे पर अनुमानित कोयले से अधिक कई टन कोयला ट्रकों पर लोड पाया गया था, जिसके बाद एनसीएल सुरक्षा विभाग ने दोनों ट्रकों को पकड़कर जांच कराई थी। इस तरह के कई प्रकरण अवैध कोयले से जुड़े हुए प्रकाश में आते रहते हैं। लेकिन हर बार सिर्फ कोयला पकड़ में आता है, सिंडिकेट का मुख्य सरगना हमेशा पुलिसिया जांच से दूर रहकर अपना खेल बदस्तूर जारी रखता है।

लगातार अवैध कोयला चोरी से जुड़े प्रकरण सामने आने पर कयास लगाए जा रहे हैं कि काले हीरे का काला खेल ऊर्जांचल में चरम पर है और सिंडिकेट का मुख्य सरगना फरार रखकर अपनी गोटी सेट कर रहा है। चट्टी चौराहों पर चर्चा आम है कि इस बार भी आरोपियों पर कार्रवाई होगी या हर बार की तरह सिर्फ अवैध कोयले को लावारिस दिखाकर खानापूर्ति कर दी जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button