मध्यप्रदेशसिंगरौली

Single Used Plastic Prohibition : एकल प्रयोग प्लास्टिक वस्तुओं के निषेध पर हुई जागरूकता संगोष्ठी।

Single Used Plastic Prohibition : एकल प्रयोग प्लास्टिक वस्तुओं के निषेध पर हुई जागरूकता संगोष्ठी। Single Used Plastic Prohibition : नॉर्दर्न कोलफ़ील्ड्स लिमिटिड (NCL) के मुख्यालय में मंगलवार को मध्य प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय कार्यालय सिंगरौली के सहयोग से एकल प्रयोग प्लास्टिक वस्तुओं के प्रयोग को बंद करने के संबंध में लोगों को जागरूक करने के लिए एक बैठक आयोजित की गयी।

इस अवसर पर मध्य प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी मुकेश श्रीवास्तव बतौर विशिष्ट अतिथि उपस्थित रहे | इसके साथ ही कनिष्ठ अभियंता (पर्यावरण) अरविन्द सावले, एनसीएल से विभागाध्यक्ष (पर्यावरण एवं वन) एचबी शिंदे तथा एनसीएल की सभी परियोजनाओं से नोडल अधिकारी (पर्यावरण) शामिल हुए।

अपने उद्बोधन में मुकेश श्रीवास्तव ने एकल प्रयोग प्लास्टिक वस्तुओं जैसे प्लास्टिक स्टिक युक्त ईयर बड्स, प्लास्टिक के गुब्बारे, प्लास्टिक के झंडे, कैंडी स्टिक, प्लास्टिक के बर्तन, 100 माइक्रोन से कम मोटाई वाले प्लास्टिक या पीवीसी बैनर इत्यादि पर 1 जुलाई 2022 से निषेध के संबंध में भारत सरकार द्वारा जारी नियमों के बारे में बताया।

मुकेश श्रीवास्तव ने सभी से अपने आस-पास के क्षेत्र के सभी लोगों एवं विद्यालयों में एकल-प्रयोग-प्लास्टिक वस्तुओं को उपयोग में ना लाने के लिए जागरूकता बढ़ाने और इस प्रतिबंध का कड़ाई से पालन करने का आह्वान किया। इस दौरान उन्होंने एनसीएल द्वारा पर्यावरण संरक्षण व प्रदूषण नियंत्रण की दिशा में किए जा रहे प्रयासों की सराहना की।

Awareness seminar on “Prohibition of single-use plastic items”

A meeting was organized at the headquarters of Northern Coalfields Limited (NCL) on Tuesday in collaboration with the Regional Office of Madhya Pradesh Pollution Control Board, Singrauli to make people aware of the use of single-use plastic items.

On this occasion, Regional Officer of Madhya Pradesh Pollution Control Board Shri Mukesh Srivastava was present as a special guest. Along with this, Shri Arvind Sawale, Junior Engineer (Environment), H. B. Shinde, Head of the Department (Environment and Forest) from NCL, and Nodal Officer (Environment) from all the projects of NCL participated.

In his address, Shri Mukesh Srivastava spoke on single-use-plastic items like ear buds with plastic sticks, plastic balloons, plastic flags, candy sticks, plastic utensils, plastic or PVC banners of less than 100 microns thickness, etc. on 1 July 2022. Told about the rules issued by the Government of India regarding prohibition from

Shri Mukesh Srivastava called upon everyone to raise awareness for not using single-use-plastic items in all the people and schools in their vicinity and strictly follow this ban. During this, he appreciated the efforts being made by NCL in the direction of environmental protection and pollution control.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button