FEATUREDसोनभद्र

सेंधमारी कर 22 एलपीजी गैस सिलेंडर चोरी, गैस गोडाउन में चोरी की तीसरी घटना से एनसीएल खड़िया कोऑपरेटिव की उड़ी नींद।

उमेश सागर की रिपोर्ट ।

सेंधमारी कर 22 एलपीजी गैस सिलेंडर की चोरी की घटना से एनसीएल खड़िया कोऑपरेटिव में हड़कंप मचा हुआ है। बीती रात चोरी की घटना के साथ ही यह सेंधमारी कर चोरी की तीसरी घटना है। इससे पूर्व में भी एनसीएल खड़िया परियोजना गैस गोडाउन में सेंधमारी कर कई एलपीजी गैस सिलेंडर चोर पार कर चुके हैं।

खड़िया परियोजना उपभोक्ता सहकारी समिति लिमिटेड के अध्यक्ष संत कुमार और सचिव एससी द्विवेदी ने शक्तिनगर थाने में तहरीर देकर गैस गोडाउन में चोरी की घटना की जानकारी दी है। जिसमें बताया गया है कि बीती रात को गैस गोडाउन के नाले साइड की दीवार को तोड़कर 22 भरे हुए सिलेंडर को चोर उठा ले गए। चोरी हुए 22 सिलेंडरों की अनुमानित कीमत लगभग 77 हजार रुपए हैं।

सेंधमारी कर 22 एलपीजी गैस सिलेंडर चोरी, गैस गोडाउन में चोरी की तीसरी घटना से एनसीएल खड़िया कोऑपरेटिव की उड़ी नींद। ।
फोटो : महामना न्यूज़।

14.2 किलोग्राम वजनी भरे एलपीजी सिलेंडर को गैस गोडाउन में सेंधमारी कर चोर उठा ले गए और किसी को भनक तक नहीं लगी। एनसीएल खड़िया परियोजना के माइनर्स कॉलोनी के पीछे एकांत में गैस गोडाउन निर्मित है। इससे पूर्व में भी दो बार उक्त गैस गोडाउन में चोरी की वारदात हो चुकी है परंतु पिछली चोरियों से सबक लेकर सुरक्षा के इंतजाम करने के बजाए एनसीएल खड़िया प्रबंधन की सुरक्षा लापरवाही उजागर हुई और चोरों ने 22 भरे हुए एलपीजी सिलेंडर पार कर दिए।

पूर्व में भी गैस गोडाउन में हो चुकी है चोरी – बीती रात गैस गोदाम का दीवार तोड़कर 22 भरे एलपीजी सिलेंडर की चोरी की घटना ने हड़कंप मचा दी है। वहीं प्राप्त जानकारी अनुसार खड़िया परियोजना कोऑपरेटिव सोसाइटी के गैस गोडाउन में पहले भी कई बार चोरी की वारदात हो चुकी है। लेकिन लगातार हो रही चोरियों के बावजूद भी सुरक्षा के कोई पुख्ता इंतजाम नहीं किए जाने से चोरों के हौसले बुलंद होते रहे और चोरी बदस्तूर जारी रही।

इसी वर्ष 9 अप्रैल को खड़िया परियोजना गैस गोदाम की नाले साइड की लोहे की ऐंगल चोरी हो गई और चोरों ने ताला तोड़ने का प्रयास किया। वहीं 21 अप्रैल को गैस गोदाम की नाले साइड की दीवार को तोड़कर 21 एलपीजी सिलेंडर चोर उठा ले गए। इसके अलावा भी कई बार चोरी की घटना या चोरी के प्रयास बदस्तूर जारी रहे परंतु एनसीएल खड़िया प्रबंधन सुरक्षा को लेकर कुंभकरण की नींद में सोया रहा।

सेंधमारी कर 22 एलपीजी गैस सिलेंडर चोरी, गैस गोडाउन में चोरी की तीसरी घटना से एनसीएल खड़िया कोऑपरेटिव की उड़ी नींद। ।
मौके पर जांच करती पुलिस। फोटो : महामना न्यूज़।

चोरी की घटना लगातार फिर भी नहीं तैनात सुरक्षा गार्ड –

खड़िया परियोजना उपभोक्ता सहकारी समिति लिमिटेड के अध्यक्ष और सचिव ने बताया कि गैस गोडाउन में लगातार चोरी की घटना की सूचना स्थानीय पुलिस थाने और एनसीएल खड़िया प्रबंधन को दिया गया। लेकिन सुरक्षा गार्ड की तैनाती ना होने के कारण हर बार चोर अपने मंसूबों में कामयाब होते रहे। पूर्व में एक सुरक्षा गार्ड की रात्रि ड्यूटी गैस गोदाम पर लगती थी। लेकिन वर्तमान सुरक्षा विभाग अधिकारी ने गैस गोडाउन पर सुरक्षा गार्ड की तैनाती बंद कर दी। गैस गोदाम में लगातार चोरी की घटना होती रही और एनसीएल सुरक्षा विभाग सोता रहा।

मौके पर पहुंची पुलिस जांच में जुटी –

गैस गोदाम में सेंधमारी कर 22 भरे एलपीजी सिलेंडर की चोरी की तहरीर प्राप्त होने पर स्थानीय पुलिस ने मौके पर पहुंचकर छानबीन किया और कोऑपरेटिव सोसायटी के सचिव व अध्यक्ष से विस्तृत जानकारी एकत्रित किया। पुलिस ने जल्द ही चोरों को पकड़ने का हवाला देते हुए छानबीन की कार्रवाई तेज कर दी।

एनसीएल खड़िया सुरक्षा अधिकारी एसपी सिंह का बयान –

एनसीएल खड़िया परियोजना सुरक्षा अधिकारी एसपी सिंह ने बताया कि गैस गोडाउन को सुरक्षा देना हमारे अधिकार क्षेत्र से बाहर का है। खड़िया कोऑपरेटिव सोसायटी लिमिटेड को अपनी गैस गोदाम की सुरक्षा के लिए गार्ड की तैनाती स्वयं करनी है। लेकिन फिर भी यदि एनसीएल खड़िया प्रबंधन आदेश पारित करता है तो हम सुरक्षा व्यवस्था का प्रयास करेंगे।

फिलहाल एनसीएल खड़िया कोयला खदान, महाप्रबंधक कार्यालय और आवासीय परिसर मुख्य द्वारों पर सुरक्षा की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। जितने भी पर्याप्त सुरक्षा बल हमारे पास हैं उससे हम क्षमता से अधिक सेवा देने के लक्ष्य में जुटे हुए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button