उत्तर प्रदेशसोनभद्र

एनटीपीसी सिंगरौली तृतीय चरण विस्तार जोरों पर, सरकारी भूमि को खाली करें नहीं तो चलेगा बुलडोजर : दुद्धी एसडीएम।

जिला प्रशासन द्वारा अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई।

एनटीपीसी सिंगरौली तृतीय चरण विस्तार जोरों पर, सरकारी भूमि को खाली करें नहीं तो चलेगा बुलडोजर : दुद्धी एसडीएम। जिला प्रशासन द्वारा अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई। एनटीपीसी सिंगरौली की प्रस्तावित तृतीय चरण को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन द्वारा एनटीपीसी सिंगरौली की अतिक्रमण भूमि पर प्रभावी कार्रवाई की गई, जिसके तहत ग्राम परसवार राजा के अवैध कब्ज़े को विधिसम्मत ढंग से हटाया गया।

दुद्धी उप जिलाधिकारी शैलेंद्र कुमार मिश्रा ने बताया कि एनटीपीसी सिंगरौली तृतीय चरण के विस्तार की कार्रवाई जोरों पर है। इसलिए भविष्य में भी अवैध कब्ज़े के खिलाफ विधिसम्मत कार्रवाई की जाएगी ताकि जनहित में जल्द से जल्द प्रस्तावित विद्युत परियोजना का निर्माण कार्य पूर्ण कर देश की विद्युत आवश्यकता को पूरा किया जा सके।

एनटीपीसी सिंगरौली तृतीय चरण विस्तार जोरों पर, सरकारी भूमि को खाली करें नहीं तो चलेगा बुलडोजर : दुद्धी एसडीएम।
एनटीपीसी सिंगरौली पावर प्लांट। फोटो : एनटीपीसी सिंगरौली जनसंपर्क विभाग।

भारत सरकार, विद्युत मंत्रालय एवं उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार, एनटीपीसी सिंगरौली द्वारा यथाशीघ्र तृतीय चरण के विस्तार की कार्रवाई की जा रही है।

एनटीपीसी सिंगरौली में वर्तमान में 200 मेगावाट की 5 इकाइयाँ और 500 मेगावाट की 2 इकाइयाँ संचालित हैं, जिनकी कुल क्षमता 2000 मेगावाट है। एनटीपीसी सिंगरौली प्रथम चरण की यूनिटें तकरीबन 40 वर्ष पुरानी हो चुकी हैं, इसलिए भारत सरकार के निर्देश पर एनटीपीसी सिंगरौली तृतीय चरण के निर्माण के साथ अपनी उत्पादन क्षमता का विस्तार करने जा रही है।

एनटीपीसी सिंगरौली तृतीय चरण का विस्तार भारत सरकार के “उज्ज्वल भारत, उज्ज्वल भविष्य, पावर 2047 के उद्देश्यों के अनुरूप है, जो एनटीपीसी की बिजली उत्पादन क्षमता के विस्तार में मदद करेगा एवं देश भर में बिजली की कमी को पूरा करने में मदद करेगा।

सोमवार को परसवार राजा ग्राम के अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई शक्तिनगर थाना प्रभारी नागेश सिंह, तहसीलदार बृजेश कुमार मिश्रा, लेखपाल, कानूनगो, पुलिस प्रशासन, संपदा अधिकारी, केंद्रीय औधोगिक सुरक्षा बल, एनटीपीसी कर्मी, जन प्रतिनिधिगण की देखरेख में संपन्न की गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button