भ्रष्टाचारसिंगरौलीसोनभद्र

कोयला कांटे पर गड़बड़झाला, अवैध कोयला ढुलाई का बदल रहा स्वरूप।

एनसीएल दुद्धीचुआ सुरक्षा विभाग की मुस्तैदी से पकड़ाई ट्रक।

कोयला कांटे पर गड़बड़झाला, अवैध कोयला ढुलाई का बदल रहा स्वरूप। एनसीएल दुद्धीचुआ सुरक्षा विभाग की मुस्तैदी से पकड़ाई ट्रक। कोयला कांटे पर तौल कराने के बाद एनसीएल सुरक्षा विभाग की औचक निरीक्षण में अनुमानित कोयले के भार में भारी अंतर आने के बाद एनसीएल अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए और आशंका जताई जाने लगी की अवैध कोयला चोरी की नई तकनीकी का जुगाड़ कोल माफिया सिंडिकेट ने लगाना शुरू कर दिया है।

दरअसल पूरा मामला एनसीएल दुद्धीचुआ क्षेत्र से जुड़ा हुआ है। जहां शनिवार को सुबह तकरीबन 6:00 बजे कोयला कांटे पर वजन के बाद तीन ट्रकों पर शक होने पर उनका दोबारा वजन कराया गया। जिसमें दो ट्रक के पूर्व में हुए वजन व दोबारा वजन कराने में लगभग 16 टन का अंतर आया। पूरे मामले में एनसीएल दुद्धीचुआ सुरक्षा विभाग की मुस्तैदी के कारण कांटे में भारी चूक को पकड़ा गया।

एनसीएल दुद्धीचुआ क्षेत्र के कोयला ढुलाई में लगे डिओ नंबर 125 के ट्रक संख्या यूपी 67 एटी 3646, यूपी 50 सीटी 3630 और डीओ नंबर 142 की गाड़ी संख्या सीजी 15 डीएच 9056 पर लदे कोयले को देखकर शक होने पर दोबारा वजन कराया गया तो ट्रक संख्या यूपी 67 एटी 3646 का वजन लगभग 39 टन आया, जबकि पूर्व में इसका वजन लगभग 24 टन था।

इसी प्रकार गाड़ी संख्या यूपी 50 सीटी 3630 का वजन लगभग 47 टन आया, जबकि पूर्व में इसका वजन लगभग 30 टन था। तीसरी गाड़ी सीजी 15 डीएच 9056 का वजन पूर्व में किए गए वजन के लगभग 42 टन के बराबर ही पाया गया। एनसीएल दुद्धीचुआ सुरक्षा विभाग के औचक निरीक्षण और मुस्तैदी के कारण बड़ी चूक को पकड़ लिया गया।

एनसीएल दुद्धीचुआ सुरक्षा अधिकारी नारायण यादव ने बताया कि दोनों ट्रकों को ब्लैक लिस्ट करते हुए सुनिश्चित किया गया है कि एनसीएल की किसी भी परियोजना में ऐसे ट्रक कोयला ढुलाई नहीं कर सकेंगे। निकट भविष्य में भी सुरक्षा विभाग की औचक निरीक्षण जारी रहेगी और किसी भी सूरत में गलत कृत्यों में शामिल लोगों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button