उत्तर प्रदेशसोनभद्र

इस्लामिक जेहादी कट्टरता और हिंसा फैलाने वालों पर कार्रवाई हेतु बजरंग दल ने सौंपा ज्ञापन।

इस्लामिक जेहादी कट्टरता को देश में बढ़ावा देने और हिंसा फैलाने वालों पर कार्रवाई करने के संदर्भ में बजरंग दल जिला रेणुकूट इकाई द्वारा महामहिम राष्ट्रपति के नाम दुद्धी उप जिला अधिकारी शैलेंद्र मिश्रा को ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर सोनभद्र विश्व हिंदू परिषद विभाग मंत्री राजेश सिंह की उपस्थिति में विश्व हिंदू परिषद व बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने दुद्धी तहसील परिसर में बैठक कर अपना विरोध जताया।

इस्लामिक जेहादी कट्टरता और हिंसा फैलाने वालों पर कार्रवाई हेतु बजरंग दल ने सौंपा ज्ञापन।

देशभर में वर्तमान समय में इस्लामिक जेहादी कट्टरता बढ़ती जा रही है। हिंदुओं पर योजना पूर्वक सुनियोजित हमले किए जा रहे हैं। श्री राम नवमी पर निकली शोभायात्रा ऊपर पथराव और हनुमान जयंती शोभायात्रा पर हमला से हिंदू समाज आक्रोशित है। इस्लामिक कट्टरपंथियों ने ऐसा माहौल पैदा कर दिया है कि हिंदू समाज अपने ही देश में अपने आराध्य देवों की शोभायात्रा नहीं निकाल पा रहा है। हिजाब विवाद के समय भी कर्नाटक में बजरंग दल कार्यकर्ता हर्षा की निर्मम हत्या कर दी गई थी। अब हिंदू समाज बर्दाश्त नहीं करेंगा। विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल सड़क पर उतरकर लड़ाई लड़ने को तैयार है। उक्त बातें विभाग मंत्री राजेश सिंह ने कही।

बैठक को संबोधित करते हुए विश्व हिंदू परिषद जिला अध्यक्ष गोपाल सिंह ने जुमे की नमाज के बाद देश के विभिन्न हिस्सों में हिंदू घरों दुकानों व वाहनों पर हमले किए गए। शासकीय संपत्ति और मंदिरों को भारी मात्रा में इस्लामिक जेहादी कट्टरपंथियों ने नुकसान पहुंचाया। बहन नुपुर शर्मा व नवीन जिंदल के बयान के बाद हिंदू समाज के लोगों को जान से मारने की धमकी दी जा रही है। सांप्रदायिक विद्वेष फैलाने वाले वक्तव्य कट्टरपंथियों द्वारा दिए जा रहे हैं फिर भी देश के अनेक सेकुलर पक्ष की राजनीति करने वाले मौन रहते हैं।

इस्लामिक जेहादी कट्टरता और हिंसा फैलाने वालों पर कार्रवाई हेतु बजरंग दल ने सौंपा ज्ञापन।

बात-बात पर लोकतंत्र खतरे में होने की दुहाई देने वाली अनेक राजनीतिक दल गत शुक्रवार को हुई लोकतंत्र की हत्या पर मौन है। इनके मौन रहने से देश का सामाजिक सद्भाव तो बिगड़ता ही है। जेहादियों को हौसले भी बढ़ते हैं। संपूर्ण देश का हिंदू समाज इन हमलों से आहत और आक्रोशित हैं।

राष्ट्रपति के नाम सौंपे ज्ञापन में बजरंग दल सात मांगों को रखा है-
1– दो जुमों की नमाज के बाद मस्जिदों से निकली उन्मादी भीड़ और दंगाइयों को पहचान कर उन पर रासुका के तहत कार्रवाई की जाए। 17 जून को इन मस्जिदों सहित अन्य जिलों पर भी निगरानी रखी जाए। मुल्ला व मौलवियों या अन्य किसी को भी जेहादी भाषण देने से तुरंत रोका जाए।

2– भड़काने वाले मुल्ला व मौलवियों या अन्य सेकुलर नेताओं की पहचान कर उन पर भी रासुका लगाकर जिला बदर की कार्रवाई की जाए।
3– देशभर में जहरीले भाषण देने वालों को चिन्हित कर कार्रवाई की जाए।
4– जिन्हें भी धमकियां दी जा रही हैं उनको सुरक्षा उपलब्ध कराई जाए व धमकी देने वालों पर कठोर कार्रवाई किया जाए।

5– मस्जिदों व मदरसों से उनकी एनआईए से जांच कराई जाए।
6– इस्लामिक जेहादी कट्टरता फैलाकर देश में हिंसा कराने वाले
संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया व तबलीगी जमात जैसे कट्टरपंथी संगठनों पर अविलंब प्रतिबंध लगाया जाए।
7– जिन स्थानों पर हिंदू अल्पसंख्यक हो गया है, वहां पर उनकी सुरक्षा की व्यवस्था की जाए व अनिवार्य रूप से पुलिस चौकी स्थापित की जाए।

इस अवसर पर प्रमुख रूप से बजरंग दल जिला संयोजक संदीप गुप्ता, विश्व हिंदू परिषद जिला उपाध्यक्ष कमल सिंह, बजरंग दल जिला सहसंयोजक राघवेंद्र प्रताप सिंह, गौ रक्षा प्रमुख विजय सिंह, वीर बहादुर सिंह, भाजपा मंडल अध्यक्ष दुद्धी मनोज सिंह उर्फ बबलू सिंह, मनोज मिश्रा सहित सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button