उत्तर प्रदेशसोनभद्र

सदर विधायक भूपेश चौबे ने सिंगल यूज प्लास्टिक अभियान के तहत खुद घरों पर टांगी बोरी।

सदर प्रमुख और ग्राम प्रधान बोरी थमा कर अभियान को गति देने का किया आह्वान।

सदर विधायक भूपेश चौबे ने सिंगल यूज प्लास्टिक अभियान के तहत खुद घरों पर टांगी बोरी। सदर प्रमुख और ग्राम प्रधान बोरी थमा कर अभियान को गति देने का किया आह्वान। सदर विधायक भूपेश चौबे ने सिंगल यूज प्लास्टिक अभियान के तहत खुद घरों पर टांगी बोरी। सोनभद्र जिलाधिकारी सोनभद्र चंद्र विजय सिंह के द्वारा शुरू किए गए “प्लास्टिक एकत्रीकरण अभियान, मेरा प्लास्टिक मेरी जिम्मेदारी अभियान” (“Plastic Collection Campaign, My Plastic My Responsibility Campaign”) के अनूठे प्रयास हर घर में एक बोरी टांग कर, मेरा प्लास्टिक मेरी जिम्मेदारी अभियान को और गति तब मिल गई जब सदर विधायक भूपेश चौबे ने ग्राम पंचायत बेठी गांव निष्फ में ग्राम वासियों को अपने घर पर एक बोरी लगाने का आह्वान किया तथा खुद एक घर में अपने हाथों से बोरी को टांग कर उस घर की महिलाओं को प्लास्टिक उसी में फेंकने हेतु अनुरोध किया।

सदर विधायक भूपेश चौबे ने सिंगल यूज प्लास्टिक अभियान के तहत खुद घरों पर टांगी बोरी।

ग्राम पंचायत के पंचायत भवन पर विकासखंड रावटसगंज के प्रमुख अजीत रावत एवं ग्राम पंचायत प्रतिनिधि अनूप तिवारी को एक-एक बोरी भेंट कर उनका आह्वान किया कि आप अपने विकासखंड में एवं आप अपने ग्राम पंचायत के हर घर में इस अभियान को लेकर जाएं।

आज सिंगल यूज प्लास्टिक की समस्या हर ग्राम पंचायत में विकट स्थिति में है। हम लोगों को मिलकर ही इस समस्या का समाधान करना है। जो भी प्लास्टिक हम प्रयोग करते हैं प्रयोग के उपरांत उसको घर के बाहर न फेंके। घर पर एक बोरी किसी भी स्थान पर टांग ले एवं उस प्लास्टिक को उसी घर में रखें। इस कार्य में घर की महिलाएं सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है।

सदर विधायक भूपेश चौबे ने सहायक विकास अधिकारी पंचायत को निर्देशित किया की ग्राम पंचायत के द्वारा रोस्टर बनाकर उस प्लास्टिक को इकट्ठा कर लिया जाएगा, जिससे कि उसका विधिवत निस्तारण संभव हो सकेगा। संबोधित करते हुए श्री चौबे ने कहा की आज जो प्लास्टिक बाहर फेंका जाता है, वह प्लास्टिक सबसे ज्यादा हमारे पर्यावरण को नुकसान पहुंचा रहा है।

जानवर उसको खाकर असामयिक मौत के मुंह में जा रहे हैं तथा नालियां एवं खेत खराब हो रहे हैं तथा आज कूड़े में सबसे अधिक मात्रा प्लास्टिक की है, जो हर जगह बिखरी हुई दिखती है। अतः अब समय है इस अभियान को सभी लोग बढ़-चढ़कर आगे बढ़ाएं तथा सोनभद्र का नाम पूरे भारत में प्लास्टिक मुक्त जनपद के तौर पर देखा जाए।

कार्यक्रम में सदर प्रमुख अजीत रावत, जिला पंचायत राज अधिकारी विशाल सिंह, खण्ड विकास अधिकारी राबर्ट्सगंज उमेश सिंह, सहायक विकास अधिकारी पंचायत कृपा शंकर शुक्ला, अमौली के ग्राम प्रधान और सदर प्रधान संघ के अध्यक्ष सुरेश शुक्ला, डीपीसी अनिल केशरी और ग्रामीण उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button