FEATUREDउत्तर प्रदेश

RSS Office Bomb Threatened : आरएसएस कार्यालय को बम से उड़ाने की मिली धमकी।

RSS Office Bomb Threatened : उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के अलीगंज स्थित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कार्यालय को बम से उड़ाने की धमकी मिलने से चारों तरफ सनसनी का माहौल बन गया। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े डॉक्टर नीलकंठ मणि पुजारी को व्हाट्सएप संदेश के जरिए आरएसएस. कार्यालय को बम से उड़ाने की धमकी मिली है। Threatened to Blow up RSS office : धमकी वाले संदेश व्हाट्सएप के जरिए 3 भाषाओं में भेजे गए हैं। जिसमें लखनऊ, नवाबगंज के अलावा कर्नाटक प्रदेश के चार स्थानों पर स्थित संघ कार्यालय को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है। डॉक्टर नीलकंठ मणि पुजारी ने मड़ियांव थाने में मुकदमा दर्ज कराया है।

RSS Office Bomb Threatened : आरएसएस कार्यालय को बम से उड़ाने की मिली धमकी।

Threatened to Blow up RSS office : प्राप्त जानकारी अनुसार रविवार को लखनऊ राजधानी में अलीगंज स्थित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कार्यालय को बम से उड़ाने की धमकी भरे संदेश व्हाट्सएप के जरिए डॉक्टर नीलकंठ मणि पुजारी को भेजे गए। 3 भाषाओं में भेजे गए संदेश में लखनऊ, नवाबगंज के अलावा कर्नाटक के चार स्थानों को बम से उड़ाने के बारे में लिखा गया था।

पूरे प्रकरण की लिखित शिकायत डॉक्टर नीलकंठ मणि पुजारी ने मड़ियांव थाने में देकर मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस प्रशासन धमकी भरे संदेश भेजने वाले की खोजबीन के लिए साइबर क्राइम सेल व क्राइम ब्रांच की मदद ले रही है। व्हाट्सएप पर 3 भाषाओं हिंदी, कन्नड़ और अंग्रेजी में धमकी भरे संदेश प्राप्त हुए थे।

व्हाट्सएप पर विदेशी नंबर से धमकी भरे संदेश भेजने वाले ने लिंक खोलकर ग्रुप में जोड़ने को कहा था। लेकिन नंबर विदेशी होने के कारण डॉक्टर नीलकंठ ने लिंक पर क्लिक नहीं किया। यूपी व कर्नाटक के छह स्थानों को रविवार रात 8:00 बजे बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी। जिसमें लखनऊ राजधानी स्थित अलीगंज में संघ कार्यालय भी था।

Threatened to Blow up RSS office : मड़ियांव थाना प्रभारी निरीक्षक अनिल कुमार से प्राप्त जानकारी अनुसार डॉक्टर नीलकंठ मणि पुजारी की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया जा चुका है। उच्च अधिकारियों को मामले से अवगत कराते हुए सुरक्षा एजेंसियों को सूचित किया गया है। हालांकि धमकी ने दिन और समय का जो जिक्र किया गया था उक्त समय पर कोई घटना नहीं हुई है। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि किसी शरारती तत्व द्वारा भ्रामक मैसेज भेज कर परेशान करने की नीति अपनाई गई है। पूरे प्रकरण में जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कार्यालय (RSS Office) को बम (Bomb) से उड़ाने की धमकी (Threatened) को पुलिस प्रशासन ने गंभीरता से लेते हुए पूरे मामले की जांच को शुरू कर दिया था। ‌ ज्ञानवापी मामले (Gyanvapi Case) और ताजा कानपुर हिंसा (Kanpur Violence) को देखते हुए सुरक्षा एजेंसियां भी व्हाट्सएप पर मिले संदेश की गहनता से जांच में जुटी हुई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button