FEATUREDउत्तर प्रदेशसोनभद्र

खड़िया बाजार और आंबेडकर नगर में आज 9 बजे से चलेगा बुलडोजर ? मार्किंग ना होने से बढ़ा असमंजस ?

खड़िया बाजार और आंबेडकर नगर में बुलडोजर चलाकर अवैध अतिक्रमण गिराए जाने की कार्रवाई आज शुक्रवार सुबह 9 बजे से होने की संभावना जताई जा रही है। खड़िया बाजार और आंबेडकर नगर में एनसीएल खड़िया परियोजना ने अपनी सरकारी जमीन पर जबरन कब्जा कर अवैध निर्माण की शिकायत उप जिलाधिकारी दुद्धी से की थी और बताया था कि न्यायालय द्वारा बेदखली के आदेश को भी कब्जाधारियों ने अनसुना कर दिया था।

महामहिम राज्यपाल ने दिया वन भूमि पट्टा, खिल उठे आदिवासियों के चेहरे।

 

दुद्धी के नवागत उपजिलाधिकारी शैलेंद्र मिश्रा ने मामले का संज्ञान लेते हुए सरकारी जमीन पर अतिक्रमण को कब्जा मुक्त कराने हेतु मजिस्ट्रेट व अतिक्रमण गिराने की तिथि 20 मई निर्धारित की है। जिसके तहत खड़िया बाजार और आंबेडकर नगर में आज बुलडोजर चलेगा?

विगत दिनों शक्तिनगर थाना क्षेत्र के बस स्टैंड मार्केट मुख्य मार्ग समीप राहुल पैलेस होटल को बुलडोजर चलाकर ध्वस्त किया गया था। साथ ही होटल के अगल-बगल दुकान को भी बुलडोजर से गिरा कर कब्जा मुक्त की कार्रवाई की गई थी। जिसके बाद से अनुमान लगाया जा रहा था कि एनसीएल खड़िया खदान क्षेत्र के अंदर बसे से अतिक्रमणकारियों पर बुलडोजर चलेगा।

खड़िया बाजार में 18 और आंबेडकर नगर में तीन चिन्हित कब्जाधारियों पर शासनादेश अनुसार बुलडोजर चलने की कार्रवाई की जाएगी और एनसीएल खड़िया परियोजना की सरकारी जमीन को कब्जा मुक्त कराया जाएगा। खड़िया बाजार में दुद्धी तहसीलदार को मजिस्ट्रेट की जिम्मेदारी सौंपी गई है। वहीं आंबेडकर नगर में दुद्धी एसडीएम स्वयं मजिस्ट्रेट की भूमिका में रहेंगे और अपनी देखरेख में कबजा मुक्त की कारवाई को सफल बनाएंगे।

मार्किंग की प्रक्रिया ना होने से बढ़ा असमंजस- सूत्रों की माने तो एनसीएल खड़िया प्रबंधन द्वारा अतिक्रमण किए गए स्थान की नापी के बाद ही भू-संपदा न्यायालय में अतिक्रमण गिराए जाने का आवेदन किया था। ‌ और अब जब अवैध अतिक्रमण गिराए जाने का आदेश मिल चुका है तो कब्जाधारियों में असमंजस की स्थिति है कि निर्माण का कितना हिस्सा गिराया जाएगा? इसकी स्पष्ट मार्किंग नहीं कराई गई है? जिससे शासन के आदेश का पूर्ण रुप से पालन कर पाना चुनौती भरा है?

दुद्धी उप जिलाधिकारी शैलेंद्र मिश्रा पर दारोमदार है कि माननीय न्यायालय द्वारा चिन्हित स्थान, दुकान व मकान की निर्धारित सीमा को ही बुलडोजर से ध्वस्त कर कब्जा मुक्त करवाई सुनिश्चित की जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button