FEATUREDउत्तर प्रदेशमध्यप्रदेशसिंगरौलीसोनभद्र

आरसीएसएस ने मनाया इंटक का 75वां स्थापना दिवस समारोह।

RCSS celebrates 75th Foundation Day celebrations of INTUC.

राष्ट्रीय कोलियरी श्रमिक सभा ने राष्ट्रीय मजदूर कांग्रेस (INTUC) का 75वां स्थापना दिवस (Platinum Jubilee) समारोह का आयोजन मंगलवार सायं को एनसीएल खड़िया परियोजना के भगवान गौतम बुद्ध पार्क में किया। आरसीएसएस महामंत्री बीएन सिंह बिष्ट ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, पंडित जवाहरलाल नेहरू और सरदार पटेल के मार्गदर्शन में 3 मई 1947 को इंटर की स्थापना हुई थी। समाज सेवा, गरीबों के हक के लिए संघर्ष, संगठित व असंगठित वर्ग के श्रमिकों को न्याय दिलाना ही इंटक का मुख्य उद्देश्य रहा है।

कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि सिंगरौली पूर्व महापौर रेनू शाह शामिल हुई और भगवान गौतम बुद्ध व डॉक्टर भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम की शुरुआत की गई। कार्यक्रम की शुरुआत राष्ट्रगान के साथ की गई। दिवंगत इंटक नेता राजेंद्र सिंह को मौन रखकर विनम्र श्रद्धांजलि भेंट की गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता आरसीएसएस उपाध्यक्ष भोला भारती और संचालन सुरेश दुबे ने किया। कार्यक्रम को आरसीएसएस संयुक्त महासचिव निरंजन झा और संगठन मंत्री आईके पांडे ने संबोधित करते हुए एनसीएल में राष्ट्रीय कोलियरी श्रमिक सभा द्वारा मजदूर हितों में किए गए कार्यों की उपलब्धियों को गिनाया।

मंच पर उपस्थित गणमान्य अतिथियों को श्रीफल भेंट कर व अंग वस्त्र ओढाकर सम्मानित किया गया। आरसीएसएस खड़िया इकाई सचिव लक्ष्मण रजत ने उपस्थित पार्टी पदाधिकारियों का परिचय कराया और धन्यवाद ज्ञापन आरसीएसएस खड़िया इकाई अध्यक्ष एससी सिंह ने किया। कार्यक्रम को अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी एनसीएल कर्मी इंदु बाला, अम्लोरी शाखा अध्यक्ष अश्वनी साहू, मुख्यालय सचिव बीके सिंह, निगाही सचिव रमाशंकर सिंह, नेहरू चिकित्सालय अध्यक्ष विकास दुबे, दूधिचुआ क्षेत्र अध्यक्ष अत्री लाल, बीना अध्यक्ष त्रिभुवन सिंह व गोरबी ब्लॉक बी अध्यक्ष आरके साहू ने संबोधित किया। कार्यक्रम में एनसीएल के सभी परियोजनाओं के आर सी एस एस शाखा के पदाधिकारी व संगठन सदस्य उपस्थित रहे।

इंटक के 75वें स्थापना दिवस समारोह में मोदी को कांग्रेसियों ने जमकर कोसा-

निजीकरण की बात का जिक्र करते हुए राष्ट्रीय कोलियरी श्रमिक सभा संयुक्त महासचिव निरंजन झा ने प्रधानमंत्री मोदी पर तीखा हमला करते हुए बोला कि नरेंद्र मोदी चाहे जितनी कोशिश कर ले वह मनमोहन सिंह नहीं बन सकते हैं। प्रधानमंत्री मोदी जब कभी राष्ट्र को संबोधित करते हैं तो ऐसा लगता है जैसे वह अभी भी विपक्ष में ही हैं। आरसीएसएस के नेताओं ने भाजपा व मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि जो विकास नेहरू इंदिरा और राजीव गांधी के समय में हो चुका है और मनमोहन सिंह ने जो विदेश नीति बनाई थी, उसके मुकाबले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूरी तरह नाकाम साबित हुए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button