FEATUREDउत्तर प्रदेशसोनभद्र

लाखों के होटल व दुकान कुछ घंटों में जमींदोज, अवैध अतिक्रमण पर बड़ी कार्रवाई।

होटल व दुकान पर गरजा बुलडोजर, अवैध कब्जाधारियों में हड़कंप।

एनसीएल खड़िया परियोजना की भूमि पर जबरन कब्जा कर बने होटल व दुकान पर बुधवार सुबह 5:30 बजे से कब्जा मुक्त की कार्रवाई दुद्धी एसडीएम शैलेंद्र मिश्र और पिपरी क्षेत्राधिकारी प्रदीप सिंह चंदेल की उपस्थिति में की गई। बुधवार तड़के सुबह तमाम अटकलों को विराम लगाते हुए एनसीएल खड़िया की जेसीबी व बुलडोजर ने शासनादेश अनुसार शक्तिनगर बस स्टैंड मुख्य मार्ग के बगल में स्थित राहुल पैलेस होटल व दुकान को ध्वस्त कर कब्जा मुक्त कर दिया। इस दौरान पुलिस व पीएसी जवानों की भारी संख्या सुरक्षा व शांति व्यवस्था हेतु तैनात रही। घटनास्थल से कुछ दूरी पर भारी संख्या में अतिक्रमण पर चलते बुलडोजर को देखने के लिए भीड़ लगी रही।

एनसीएल खड़िया परियोजना की सरकारी भूमि पर जबरन कब्जा कर बने अवैध होटल व दुकान को कब्जा मुक्त कराने हेतु कुछ दिन पूर्व मजिस्ट्रेट व ध्वस्तीकरण की तिथि निर्धारित की गई थी। जिस क्रम में बुधवार सुबह दुद्धी एसडीएम की उपस्थिति में जेसीबी व बुलडोजर से अवैध कब्जा ढ़हा कर सरकारी भूमि कब्जा मुक्त करा ली गई। पूर्व में भी दो बार होटल व दुकान को गिराने हेतु नोटिस जारी हुआ था, लेकिन पर्याप्त पुलिस बल उपलब्ध ना होने के कारण कार्रवाई नहीं हो पाई थी।

प्राप्त जानकारी अनुसार शक्तिनगर बस स्टैंड स्थित राहुल पैलेस होटल को मुनीब गुप्ता व दुकान को पप्पू यादव द्वारा निर्माण कराया गया था। सुबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ के भू-माफियाओं पर चल रहे बुलडोजर को सोनभद्र की जनता ने करीब से देखा और देखते ही देखते कुछ घंटों में लाखों के होटल व दुकान मिट्टी के ढेर में तब्दील हो गए। इस दौरान एनसीएल के आला अधिकारी उपस्थित रहे।

सूत्रों की माने तो होटल को ध्वस्त होने से बचाने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा दिया गया था, लेकिन सरकारी भूमि पर अवैध अतिक्रमण को बर्दाश्त ना करने की सोच ने सारा तिकड़म फेल कर दिया और अंततः बुलडोजर चला, होटल जमींदोज हो गया।

सरकारी जमीनों से हटा लें खुद अतिक्रमण नहीं तो होगी कार्रवाई : एसडीएम शैलेंद्र मिश्रा।

दुद्धी उप जिलाधिकारी शैलेंद्र कुमार मिश्रा ने अवैध अतिक्रमणकारियों को चेताते हुए बताया कि सरकारी भूमि पर अतिक्रमण बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और यदि खुद से अतिक्रमण हटा लें तो बेहतर होगा। शक्तिनगर बस स्टैंड में होटल व दुकान गिरा कर सरकारी भूमि को कब्जा मुक्त किया गया है और निकट भविष्य में शासनादेश अनुसार भू-माफियाओं को चिन्हित कर और सख्त कार्रवाई की जाएगी। ऊर्जांचल में पहले से बहुत ज्यादा अतिक्रमण है, अब जाकर प्रबंधन व शासन ने सरकारी भूमि से कब्जा मुक्त कराने के लिए कमर कस ली है।

पुलिस प्रशासन की व्यवस्था चाक-चौबंद-

पूरी कार्रवाई में शक्तिनगर थाना प्रभारी निरीक्षक मिथिलेश कुमार मिश्रा के नेतृत्व में पुलिस प्रशासन की व्यवस्था चाक चौबंद रही। होटल व दुकान को ध्वस्त कराने से पहले स्थानीय पुलिस व पीएसी के जवानों ने पूरे क्षेत्र को कब्जे में ले लिया और रूट डायवर्जन कर यातायात व्यवस्था भी बहाल रखी। पिपरी क्षेत्राधिकारी प्रदीप सिंह चंदेल ने बताया कि पीएसी कंपनी, प्लाटून व स्थानीय पुलिस बल सहित लगभग 200 जवान सुरक्षा व शांति व्यवस्था बहाल करने हेतु पूरी मुस्तैदी से तैनात रहे। क्षेत्राधिकारी ने इस बात पर जोर दिया कि कब्जा मुक्त कराई जमीन पर दोबारा अतिक्रमण ना हो सके इसकी विशेष ध्यान रखनी है।

खड़िया बाजार में गरजेगा बुलडोजर, अतिक्रमण होगा ध्वस्त-

एनसीएल खड़िया परियोजना की भूमि पर जबरन कब्जा कर बनाए गए मकानों को ध्वस्त करने की तिथि व मजिस्ट्रेट की नियुक्ति कर दी गई। आगामी 20 मई को खड़िया बाजार के लगभग 18 चिन्हित अवैध अतिक्रमण पर कार्रवाई होने की संभावना है। एनसीएल खड़िया प्रबंधन का कहना है कि खदान क्षेत्र बाउंड्री के अंदर सीएचपी व न्यू वर्कशॉप के पास ग्राम वासियों द्वारा जबरन कब्जा कर अवैध रूप से मकान का निर्माण किया गया है।

अवैध अतिक्रमणकारियों की धड़कनें तेज, बढ़ गई धुकधुकी-

शक्तिनगर थाना क्षेत्र के चर्चित व्यवसाई व पूर्व जिला पंचायत सदस्य मुनीब गुप्ता के होटल पर चले बुलडोजर की खबर आग की तरह पूरे क्षेत्र में फैल गई और सरकारी भूमि पर अवैध अतिक्रमण कर मलाई काट रहे कब्जाधारियों की धड़कनें तेज हो गई। अपनी बारी का सोच-सोच कर उनके माथे का पसीना रुक नहीं रहा और धुकधुकी कम नहीं हो रही। चट्टी-चौराहों पर चर्चा जोरों पर है कि यदि मुनीब गुप्ता अपना होटल नहीं बचा सके तो दूसरे क्या बचाएंगे? सरकारी भूमि पर जबरन कब्जा कर मकान व व्यापार निर्माण का मजा वैसा ही है जैसे शादी का लड्डू खाए तो पछताए ना खाए तो ललचाए।

देखें बुलडोजर चलने की तस्वीर-

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button