FEATUREDराजनीति

राज्यसभा उम्मीदवारी पर कांग्रेस नेताओं का छलका दर्द : “शायद मेरी तपस्या में कुछ कमी रह गई।

The pain of Congress leaders spilled over Rajya Sabha candidature: "Maybe there was something missing in my penance.

राज्यसभा उम्मीदवारी पर कांग्रेस नेताओं का छलका दर्द : “शायद मेरी तपस्या में कुछ कमी रह गई”। राज्यसभा उम्मीदवारों के लिए चल रहे उठापटक के बीच कांग्रेस पार्टी ने अपने खेमे से 10 उम्मीदवारों के नाम तय कर दिए हैं। राज्यसभा उम्मीदवारों के नाम का लिस्ट आते ही पार्टी में भूचाल मच गया है। कई दिग्गज नेताओं के नाम लिस्ट से गायब है। जिसके बाद से असंतोष के सुर मुखर हो गए हैं।

 

सबसे ज्यादा सवाल राजस्थान से जारी उम्मीदवारों के नाम को लेकर उठ रहे हैं। राजस्थान से रणदीप सिंह सुरजेवाला, मुकुल वासनिक और प्रमोद तिवारी को उम्मीदवार घोषित किया गया है। तीनों उम्मीदवार ही राजस्थान की राजनीति से ताल्लुक नहीं रखते हैं। कांग्रेस विधायक संयम लोढ़ा ने लिस्ट पर सवाल उठाते हुए आलाकमान से पूछा है कि राजस्थान से किसी को भी उम्मीदवार क्यों नहीं बनाया गया?

राजस्थान के सिरोही विधानसभा से कांग्रेस विधायक संयम लोढ़ा ने ट्विटर पर लिखा है, ‘कांग्रेस पार्टी को यह बताना चाहिए कि राजस्थान से किसी भी कांग्रेसी नेता कार्यकर्ता को राज्यसभा चुनाव में प्रत्याशी नहीं बनाने के क्या कारण है?’, अपने ट्वीट में लोढ़ा ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को टैग भी दिया है।

 

असंतोष का सुर यहीं पर नहीं रुका, कांग्रेस राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा का भी दर्द राज्यसभा उम्मीदवारों की लिस्ट पर छलका। राजस्थान के रहने वाले पवन खेड़ा कांग्रेस में राज्यसभा के प्रबल दावेदार माने जा रहे थे। लेकिन उनका नाम भी लिस्ट में शामिल नहीं किया गया। लिस्ट जारी होने के बाद उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि “शायद मेरी तपस्या में कुछ कमी रह गई”। उनके इस ट्वीट को राज्यसभा उम्मीदवारों की लिस्ट से जोड़कर देखा जा रहा है।

 

कांग्रेस के जारी राज्यसभा उम्मीदवारों की लिस्ट प्रतिक्रिया देते हुए राजस्थान भाजपा प्रमुख सतीश पूनिया ने भी चुटकी ली है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है, “कांग्रेस का चिंतन शिविर हुआ राजस्थान में, अब लीजिए इस चिंतन की एक और उपलब्धि। अब स्थानीय उम्मीदवारों का टोटा… बिना ‘लोकल’ कौन होगा ‘वोकल’….

राजस्थान कांग्रेस के दिग्गज नेता और कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता मोहन प्रकाश शर्मा का नाम भी राज्यसभा उम्मीदवारों की लिस्ट से गायब है। ऐसे में राजस्थान के मूलनिवासी राष्ट्रीय नेताओं के नाम गायब कर बाहरी नेताओं को तरजीह देने से गुटबाजी बढ़ने के आसार जताए जा रहे हैं। माना जा रहा था कि इस बार पार्टी मोहन प्रकाश शर्मा को राज्यसभा उम्मीदवार बनाएगी। लेकिन मोहन प्रकाश शर्मा के नाम लिस्ट में ना होने से स्थानी कार्यकर्ताओं में रोष व्याप्त है। हालांकि मोहन प्रकाश शर्मा ने राज्यसभा उम्मीदवारों के जारी लिस्ट पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

कांग्रेस ने इन्हें बनाया उम्मीदवार-
छत्तीसगढ़ से राजीव शुक्ला और रणजीत रंजन, कर्नाटक से जयराम रमेश, मध्यप्रदेश से विवेक तंखा, महाराष्ट्र से इमरान प्रतापगढ़ी, तमिलनाडु से पी चिदंबरम, राजस्थान से रणदीप सिंह सुरजेवाला, मुकुल वासनिक और प्रमोद तिवारी को उम्मीदवार बनाया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button