भारतवर्ल्ड न्यूज़

रूसी विदेश मंत्री ने पीएम मोदी से रूस-यूक्रेन विवाद में मध्यस्था करने का आग्रह किया।

रूस और यूक्रेन (Russia Ukraine War) के बीच जारी संघर्ष थमने का नाम नहीं ले रहा है। पूरी दुनिया पर तीसरे विश्वयुद्ध का खतरा मंडरा रहा है। ऐसे में रूस अपने सबसे पुराने व विश्वसनीय दोस्त भारत की तरह उम्मीद की नजरों से देख रहा है। रूसी विदेश मंत्री सरगेई लावरोव दो दिवसीय आधिकारिक यात्रा पर भारत आए हैं। शुक्रवार को रूसी विदेश मंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से मुलाकात की और मुलाकात से पहले प्रेस वार्ता में रूस यूक्रेन विवाद को समाप्त करने के लिए भारत की भूमिका की संभावना की चर्चा की।

यूक्रेन और रूस के बीच जारी संघर्ष के दौरान भारत दौरे पर आए रूसी विदेश मंत्री ने भारतीय विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात किया। प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात से पहले रूसी राष्ट्रपति ने एक प्रेस वार्ता में कहा कि मॉस्को और कीव के बीच भारत मध्यस्थ की भूमिका अदा कर सकता है। रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध समाप्त करने के लिए कई दौर की चर्चाएं हुई लेकिन सब कुछ बेनतीजा रहा।

रूस और यूक्रेन के बीच मध्यस्थता के सवाल पर प्रेस वार्ता में विदेश मंत्री सरगेई लावरोव ने कहा कि भारत एक महत्वपूर्ण देश है और अगर भारत ऐसी भूमिका निभाना चाहता है जो समस्या को हल कर सके, अगर अंतरराष्ट्रीय चुनौतियों की और भारत की स्थिति न्याय पूर्ण और उचित समाज वाली है तो यह ऐसे मामलों में सहयोग कर सकता है।

गुरुवार को दो दिवसीय आधिकारिक यात्रा पर रूसी विदेश मंत्री भारत आए थे और विदेश मंत्री के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी। भारत की स्वतंत्र विदेश नीति की सराहना भी किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button