FEATUREDउत्तर प्रदेशसोनभद्र

स्वयं सहायता समूह के माध्यम से महिलाओं को आत्म निर्भर बनाने हेतु करे प्रोत्साहितः साध्वी निरंजन ज्योति।

स्वयं सहायता समूह के महिलाओं से मंत्री जी ने किया संवाद।

भारत सरकार मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने बुधवार को सर्किट हाउस के सभागार में स्वयं सहायता समूह के संचालक सदस्य महिलाओं से संवाद किया, उन्होने स्वयं सहायता समूह के माध्यम से जनपद सोनभद्र में महिलाओं द्वारा अपने को आत्म निर्भर बनाने हेतु किए जा रहे कार्यों के सम्बन्ध में जानकारी ली इस दौरान स्वयं सहायता समूह कि महिलाओं ने मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति को बताया कि उन्होने पशु पालन, बकरी पालन, स्कूल ड्रेस, हस्त निर्मित मास्क, जनरल स्टोर, सिलाई कड़ाई, मशरूम की खेती, जैविक खाद का निर्माण, गाॅव में निर्मित समुदायिक शौचालय की देख-रेख का कार्य किया जा रहा है।

राजकीय ग्रामीण अजीविका मिशन के अन्तर्गत समूह के माध्यम से धनराशि प्राप्त कर हम लोग अनेको प्रकार के रोजगार कर रहें है जिससे आय प्राप्त कर अपने परिवार के भरण-पोषण बच्चों को बेहतर शिक्षा व्यवस्था उपलब्ध करा रहे है और हमारे जीवन स्तर में बेहतर सुधार हो रहा है। इस दौरान एन0जी0ओ0 के प्रतिनिधिगणों ने भी अपनी समस्याओं से मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति को अवगत कराया।

मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने जनपद सोनभद्र में समूह की महिलाओं द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की उन्होने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने समूह के माध्यम से महिलाओं को आत्म निर्भर बनाने हेतु अधिक धनराशि की व्यवस्था की है और उनका कहना है कि समूह के माध्यम से रोजगार करने वाली महिलाये ंसाल भर में एक लाख रूपये तक की बचत करे जिससे उनके जीवन स्तर में बेहतर सुधार आये। उन्होने कहा कि सभी महिलाये समूह के माध्यम से अपने आप को आत्म निर्भर बनाने हेतु आगे आये और बढ़-चढ़कर इसमें अपनी मत्वपूर्ण भागीदारी निभायें।

इस दौरान सासंद पकौड़ी लाल कोल, विधायक सदर भूपेश चैबे, विधायक घोरावल डाॅ0 अनिल कुमार मौर्य, मुख्य विकास अधिकारी डाॅ0 अमित पाल शर्मा, भाजपा जिलाध्यक्ष अजीत चौबे, उप जिलाधिकारी सदर राजेश कुमार सिंह, रमेश मिश्रा पूर्व क्षेत्रीय उपाध्यक्ष, अनूप पाण्डेय मीडिया प्रभारी भाजपा, ब्लाक प्रमुख सदर अजीत रावत, सहित सम्बन्धित अधिकारीगण और एन0जी0ओ0 के प्रतिनिधिगण उपस्थित रहें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button