FEATUREDउत्तर प्रदेशसोनभद्र

कोरोना काल में बंद हुई थी तीन नंबर गेट, रहवासियों को उठानी पड़ रही परेशानी।

एनसीएल खड़िया गेट न खुलने से क्षेत्रवासियों में आक्रोश।

एनसीएल खड़िया क्षेत्र आवासीय परिसर गेट नंबर 3 ना खुलने की से रहवासियों को खासी दिक्कत परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और आए दिन गेट के पास से जुगाड़ तकनीक से गुजर रहे रहवासी गिरकर घायल हो रहे हैं। एनसीएल खड़िया आवासीय परिसर गेट नंबर 3 से बड़ी संख्या में स्थानीय छात्र राजकीय विद्यालय व विवेकानंद विद्यालय में अध्ययन के लिए जाते हैं। वहीं एनसीएल खड़िया कर्मचारी वर्ग भी दूध लेने के लिए बलिया नाला तक इसी गेट का प्रयोग करते हैं।

कोरोना काल में आवासीय परिसर की सभी गेट बंद किए गए थे लेकिन अनलॉक की प्रक्रिया प्रारंभ होने के बाद दो गेटों को यथावत खोल दिया गया, लेकिन इस गेट को खोलने पर प्रबंधन असमंजस की स्थिति में बना हुआ है। कुछ दिन पूर्व स्थानीय लोगों द्वारा गेट खोलने की मांग हुई थी जिस पर प्रबंधन ने कहा था की कुछ दिन बाद गेट खोल दिए जाएंगे। परंतु आज तक गेट खोलने पर विचार नहीं किया गया।

एनसीएल खड़िया गेट नंबर 3 खोलने से क्षेत्रवासियों में प्रबंधन के खिलाफ आक्रोश व्याप्त है और कभी भी प्रबंधन के खिलाफ बड़ा आंदोलन लोग कर सकते हैं। लोगों का आरोप है कि जब सभी जगह अनलॉक की प्रक्रिया के तहत सारे गेट खोल दिए गए हैं तो गेट नंबर 3 बंद करने का क्या कारण है?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button