FEATUREDउत्तर प्रदेशबलियासोनभद्र

बलिया में पत्रकार उत्पीड़न मामले को लेकर ऊर्जांचल के पत्रकारों ने मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन।

यूपी बोर्ड परीक्षा पेपर लीक मामले में बलिया के वरिष्ठ पत्रकार अजीत ओझा, दिग्विजय सिंह व मनोज गुप्ता को जिला प्रशासन द्वारा मोहरा बनाकर फर्जी मुकदमे में जेल भेजने मामले को लेकर ऊर्जांचल के पत्रकारों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम ज्ञापन सौंपकर पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराने व दोषी डीएम-एसपी को बर्खास्त करने की मांग किया है।

शक्तिनगर थाना प्रभारी को मुख्यमंत्री के नाम सौंपे ज्ञापन में पत्रकारों ने कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार में एक ओर जहां आम जनमानस में निर्भय और सुकून का माहौल है तो दूसरी तरफ बलिया जिला प्रशासन अपनी नाकामी छिपाने के लिए कुछ अधिकारियों के शह पर लोकतंत्र के चौथे स्तंभ को निशाना बनाकर उत्पीड़न कर रहे हैं, जो निंदनीय है।

नकल माफियाओं की पोल खोलने के लिए पेपर में खबर को प्रमुखता से प्रकाशित करने के बाद बलिया डीएम व एसपी ने पूरे मामले को उजागर करने वाले पत्रकारों को ही मोहरा बनाकर फर्जी मुकदमे में जेल भेज दिया, जो लोकतंत्र के चौथे स्थान पर सीधा हमला है। इस बात से नाराज ऊर्जांचल के पत्रकारों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम ज्ञापन सौंपकर विरोध जताया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button