उत्तर प्रदेशसोनभद्र

विधायक भूपेश चौबे ने झंडी दिखाकर संचारी रोग नियंत्रण अभियान रैली कोे किया रवाना।

संचारी रोग नियंत्रण अभियान का हुआ शुभारम्भ।

SONEBHADRA NEWS : सूबे की योगी सरकार के निर्देशन में शनिवार को जनपद में विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान का शुभारंभ सदर विधायक भूपेश चैबे द्वारा किया गया। मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय से संचारी रोग नियंत्रण अभियान एवं दस्तक अभियान को लेकर जन जागरूकता रैली निकाली गई। रैली को सदर विधायक भूपेश चौबे द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। रैली उपरांत मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आरएस ठाकुर की अध्यक्ष्ता में विविध कार्यक्रम सम्पन्न हुए।

Photo : Sonebhadra DIO office

इस मौके पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय पर संचारी रोग के नियंत्रण के लिए शपथ भी ली गई। इस दौरान सदर विधायक भूपेश चौबे ने कहा कि संचारी रोग नियंत्रण अभियान के अन्तर्गत घर-घर जाकर आशा बहुओं द्वारा उनके स्वास्थ्य का परीक्षण किया जायेगा और लोगों को संचारी रोग के माध्यम से होने वाली विभिन्न बिमारीयों से बचाव हेतु जागरूक किया जायेगा। उन्होने कहा कि यह प्रदेश सरकार की महत्वकांक्षी अभियान है, इस अभियान में सभी विभाग आपस में समन्वय स्थापित कर अभियान को सफल बनायें।

2 अप्रैल से 30 अप्रैल तक चलेगा संचारी रोग नियंत्रण अभियान, आमजन को किया जाएगा जागरूक- विधायक भूपेश चौबे।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले मे विशेष संचारी रोग नियन्त्रण अभियान का शुभारंभ रैली निकालकर किया गया है। साथ ही जागरूकता के उद्देश्य से जिले में गोष्ठी, परिचर्चा और प्रतियोगिता आदि भी हुई। विशेष संचारी रोग नियन्त्रण अभियान 30 अप्रैल तक चलेगा। इस दौरान वेक्टर जनित रोग जैसे मलेरिया, डेंगू और चिकनगुनिया की रोकथाम के लिए कई कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। अभियान के दौरान बुखार, टीबी, कोविड आदि लक्षणों वाले व्यक्ति के बारे में घर-घर जाकर पूछताछ की जाएगी। लक्षण मिलने पर चिह्नित कर उन्हें अस्पताल भेजा जाएगा। आवश्यकता पड़ने पर निःशुल्क एंबुलेंस की सेवा भी उपलब्ध रहेगी। लक्षण मिलने वाले व्यक्ति का पूरा नाम पता और मोबाइल नंबर सहित पूरा विवरण एएनएम के माध्यम से ब्लॉक मुख्यालय तक भेजा जाएगा।

Photo : Sonebhadra DIO office

अभियान के अंतर्गत ही जनपद में 15 से 30 अप्रैल तक दस्तक अभियान चलेगा। इसमें स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जाकर बीमार लोगों के बारे में जानकारी लेगी और 12 साल से अधिक आयु के जिन लोगों को कोविड टीका नहीं लगा है, उन्हें कोविड टीका से प्रतिरक्षित किया जाएगा। इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉक्टर आरजी यादव, डॉक्टर प्रेमनाथ, उप मुख्य चिकित्साधिकारी डॉक्टर सूबेदार, जिला मलेरिया अधिकारी डीएन श्रीवास्तव, अधिशासी अधिकारी विजय कुमार यादव एवं आरके सिंह, शुभम, राम सिंह, मनीष सिंह, डी पी एम रिपुंजय समस्त आशा, आंगनबाड़ी तथा सफाईकर्मी उपस्थित रहे।

अभियान के दौरान आशा, आंगनवाड़ी और संगिनी कार्यकर्ता घर-घर जाकर कुपोषित और अति कुपोषित बच्चों की सूची बनाएंगी। फिर यह सूची एएनएम के जरिए ब्लॉक मुख्यालय पर भेजी जाएगी। बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग कुपोषित व अति कुपोषित बच्चों को आंगनबाड़ी कार्यकत्री के माध्यम से पोषण पुनर्वास केंद्रों पर उपचार एवं पोषण उपलब्ध कराता है।

जिला मलेरिया अधिकारी धर्मेंद्र नारायण श्रीवास्तव ने बताया कि चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग, नगर पंचायत विकास, पंचायती राज, ग्राम्य विकास विभाग, बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग, शिक्षा विभाग, दिव्यांग जन विभाग, कृषि एवं सिंचाई विभाग, सूचना और उद्यान विभाग की सहभागिता रहेगी। सभी विभागों को जिम्मेदारियां सौंप दी गई है। जहां भी मच्छर पनपने की संभावना होगी। वहां निरोधात्मक कार्रवाई की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button