FEATUREDउत्तर प्रदेशसोनभद्र

बालू के अवैध खदान पर छापेमारी, 11 ट्रक जब्त, पट्टा धारकों पर मुकदमा दर्ज।

सोनभद्र। ब्रेकिंग....

योगी सरकार का अवैध खनन के खिलाफ एक्शन जारी।

छापेमारी के दौरान प्रशासन की गाड़ियां।

कोरगी में चल रहे बालू के अवैध खदान पर छापेमारी।

बालू लेने आये 11 ट्रकों को जब्त किया गया ।

वाहन चालकों व स्वामी समेत पट्टेधारक जमुना प्रसाद व सहयोगियों पर मुकदमा दर्ज।

परमिट के निर्गम बंद होने के बाद भी साइट पर तीन दिनों से चल रही ट्रकों की अवैध लोडिंग।

वाहनों के रेजिस्ट्रेशन नम्बर चेचिस नम्बर पर ओवरराइटिंग व टेम्परिंग करके के चोरी से बाहर भेजी जा रही थी रेत।

दुद्धी कोतवाली क्षेत्र के कोरगी बालू साइट का मामला।

दुद्धी – कोरगी बालू साइड पर अचानक पहुंचे एसडीएम ट्रकों को छोड़ चालक व गुर्गे फरार दुद्धी सोनभद्र तहसील अंतर्गत कास्त की बालू साइड के नाम से कई माह से संचालित ग्राम कोरगी साइड पर अचानक उपजिला अधिकारी प्रमोद कुमार तिवारी सायंकाल पहुंचे, उप जिलाधिकारी के बालू साइड पर पहुंचते ही अधिकारियों की गाड़ी देख मौके पर मौजूद राजपाल कुशवाहा व कार्य करा रहे गुर्गे सहित कई बालू लदे ट्रक हाईवा, पोकलेन संचालक गाड़ियों को छोड़ जंगल पहाड़ के रास्ते फरार हो गए।

सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा कि उक्त कास्त बालू साइड से प्रतिबंधित क्षेत्रों और नदी की मुख्य धारा के बीच स्थल पर खनन का कार्य चल रहा था, सूत्रों के हवाले से माने तो क्षेत्रीय लेखपाल द्वारा उप जिलाधिकारी महोदय को साइड पर मनमाना बालू उत्खनन की शिकायत की गई थी जिस पर उपजिलाधिकारी प्रमोद कुमार तिवारी ,तहसीलदार दुद्धी ज्ञानेंद्र प्रसाद यादव, नवागत क्षेत्राधिकारी दुद्धी आशीष कुमार मिश्रा, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली दुद्धी राघवेंद्र सिंह, वरिष्ठ उपनिरीक्षक विमलेश कुमार सिंह, उप निरीक्षक संदीप राय, विंढमगंज थाना प्रभारी सूर्यभान सिंह,राजस्व दस्ता क्षेत्रीय लेखपाल कोरगी साजिद खान व सुशील कुमार पांडेय सहित दोनों थाने के पुलिस कर्मी मौके पर मौजूद रहे।

समाचार लिखे जाने तक वैध व अवैध परीक्षेत्र में खनन की पड़ताल जारी थी, उधर उपजिलाधिकारी नें कहां की बिना नंबर प्लेट के खनन क्षेत्र में खड़ी गाड़ियों व प्रतिबंधित क्षेत्र का खननकरा रहें संचालक के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी। मौके गोलमाल करा रहें खननकर्ता सहित वाहन चालक रफूचक्कर हो गए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button