FEATUREDउत्तर प्रदेशसिंगरौलीसोनभद्र

बायोमेट्रिक हाजिरी, वेतन विसंगति व सीएमपीएफ भुगतान पर एनसीएल में मचा घमासान।

राष्ट्रीय कोलियरी श्रमिक संघ ने विरोध कर सौंपा मांग पत्र।

बायोमेट्रिक हाजिरी, वेतन विसंगति व पीएफ भुगतान को लेकर राष्ट्रीय कोलियरी श्रमिक संघ ने महाप्रबंधक कार्यालय गेट पर विरोध प्रदर्शन करते हुए एनसीएल खड़िया क्षेत्र महाप्रबंधक को मांग पत्र सौंपा है। जिसमें ठेका मजदूरों की शत-प्रतिशत बायोमेट्रिक हाजिरी (BIOMETRIC ATTENDANCE) लगाने, कोईनेट (COAINET) से वेतन बनाने व सीएमपीएफ (CMPF) सेटलमेंट में सुधार आदि मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा है।

विरोध प्रदर्शन करते राष्ट्रीय कोलियरी श्रमिक संघ पदाधिकारी।

राष्ट्रीय कोलियरी श्रमिक संघ शाखा एनसीएल खड़िया के अध्यक्ष एससी सिंह व सचिव लक्ष्मण रजक ने बताया कि एनसीएल कर्मचारियों के लिए बायोमेट्रिक हाजिरी अनिवार्य कर दी गई है जबकि इसे ठेका मजदूरों पर लागू नहीं किया गया है। साथ ही सैप (SAP) के माध्यम से वेतन बनाने से विसंगति हो रही है और सीएमपीएफ सेटलमेंट में भी काफी विसंगतियों के साथ विलंब से भुगतान हो रहा है। यदि समय रहते इन मांगों पर विचार नहीं किया जाता है तो राष्ट्रीय कोलियरी श्रमिक संघ के बैनर तले कोयला मजदूर साथी बड़े आंदोलन को बाध्य होंगे।

दरअसल पूरा बवाल एनसीएल कर्मचारियों के लिए जारी बायोमेट्रिक हाजिरी के आदेश के बाद मचा है। राष्ट्रीय कोलियरी श्रमिक संघ की मांग है कि पालक ठेका मजदूरों की बायोमेट्रिक हाजिरी सुनिश्चित की जाए और वेतन बनाने के लिए पुरानी व्यवस्था कोईनेट का इस्तेमाल किया जाए। सीएमपीएफ सेटलमेंट विसंगतियों में सुधार करते हुए तत्काल भुगतान की व्यवस्था बनाया जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button