FEATUREDमध्यप्रदेशसिंगरौली

ट्रैक्टर ट्राली से बदस्तूर जारी है रेत परिवहन, जिम्मेदार बन रहे अनजान।

अरविंद शाह की रिपोर्ट।

जनपद के कोतवाली क्षेत्र में सुबह के लगभग 8:00 बजे ट्रैक्टर से रेत परिवहन होते हुए जिस किसी ने देखा उसने यही कहा कि रात के अंधेरे में तो अवैध रेत परिवहन की खबरें प्रकाश में आती रहती थी लेकिन दिन के उजाले में धड़ल्ले से बेखौफ होकर ट्रैक्टर ट्राली से रेत परिवहन होना खनिज विभाग के साथ पुलिस प्रशासन पर गंभीर सवाल खड़े करता है।

सिंगरौली जिला अवैध रेत परिवहन व खनन को लेकर आए दिन खबरों में बना रहता है और दिखावे के लिए कभी-कभार एक आध ट्रैक्टरों को सीज व चालान कर खनिज अमला अपनी मुस्तैदी के लिए यह थपथपा लेता है। लेकिन जनपद के कोतवाली क्षेत्र के मुख्य मार्ग पर बेखौफ दौड़ता रेत लदा ट्रैक्टर ट्राली खनिज विभाग सहित पुलिस प्रशासन के रेत कारोबारियों से मिलीभगत की पोल खोलता है।

अगली खबर-
परसोना-सासन मुख्य मार्ग समीप धड़ल्ले से जारी है अवैध रेत खनन, खनिज विभाग की कब टूटेगी कुंभकरणी नींद?

Sand transport continues unabated by tractor trolley, unaware becoming responsible.

In the Kotwali area of ​​the district, at around 8:00 am, anyone who saw the sand being transported by tractor said that in the dark of night, the news of illegal sand transportation used to come to light, but in the broad daylight, fearlessly. Transportation of sand by tractor trolley raises serious questions on the police administration along with the mineral department.

Singrauli district remains in the news for illegal sand transport and mining day-to-day and sometimes one and a half tractors are seized and challaned by the mineral staff for their promptness to show off. But the sand-laden tractor trolley running fearlessly on the main road of the Kotwali area of ​​the district exposes the collusion with the sand traders of the police administration including the mineral department.

Next News-
Illegal sand mining continues indiscriminately near Parsona-Sasan main road, when will the Kumbhakarni sleep of the Mineral Department be broken?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button