ग्वालियरमध्यप्रदेश

सुहागरात के दिन पति को बताई रेप होने की बात, दूल्हा पहुंचा कोर्ट, दुल्हन के सच से टूट गई शादी।

On the day of honeymoon, the husband was told about the rape, the groom reached the court, the marriage broke with the truth of the bride. सुहागरात के दिन पत्नी का अपने पति को जिंदगी से जुड़ी सच्चाई बताना महंगा पड़ गया और सच जानने के बाद दूल्हा कोर्ट पहुंचकर तलाक की अर्जी लगा दिया। सुहागरात की सेज पर दुल्हन ने अपनी जिंदगी से जुड़ी सच्चाई को पति के साथ शेयर कर नई जिंदगी बिताना चाहती थी। लेकिन शादी से पहले रेप होने की बात जानकर दूल्हे ने सच्चाई छुपाने का आरोप लगाकर शादी खत्म करने का आवेदन कोर्ट में दाखिल कर दिया।

Photo by Google

पूरा मामला ग्वालियर जिले से जुड़ा हुआ है जहां सुहागरात के दिन दुल्हन ने पति को जब अपने साथ रेप होने की सच्चाई बताई तो नाराज दूल्हा अगले ही दिन दुल्हन को मायके छोड़ आया और शादी खत्म करने के लिए फैमिली कोर्ट में आवेदन कर दिया। कोर्ट ने दुल्हन को अपनी बात रखने का भरपूर मौका दिया, लेकिन 3 साल चली सुनवाई के बीच दुल्हन ने एक बार भी कोर्ट पहुंचकर अपना पक्ष नहीं रखा। जिसके बाद कोर्ट ने शादी को अमान्य घोषित कर कर दिया।

दुल्हन ने बताया मामा के लड़के ने किया था दुष्कर्म-

दुल्हन की सच्चाई जानने के बाद दूल्हे ने शादी खत्म करने का फैसला लिया। जिसके बाद दोनों परिवारों के बीच पंचायत हुई तो पूरी सच्चाई सामने जानकर सब हैरान रह गए। लड़की के साथ दुष्कर्म करने वाला उसी के मामा का लड़का था। शादी टूटने के बाद दुल्हन ने आरोपी युवक के खिलाफ दुष्कर्म का केस भी दर्ज कराया, लेकिन दूल्हा दुल्हन को साथ रखने को तैयार नहीं हुआ। कोर्ट में दूल्हे ने आवेदन दिया कि धोखे से सच्चाई छुपाकर शादी की गई है इसलिए शादी को अमान्य घोषित किया जाए।

क्या था मामला-

ग्वालियर के रहने वाले 25 वर्षीय युवक की शादी 2019 में ग्वालियर की ही 21 वर्षीय युवती से हुई थी। सुहागरात को दूल्हा जब दुल्हन से अपने जिंदगी से जुड़ी सच्चाई बता रहा था, तब दुल्हन ने भी अपने निजी जीवन की कुछ बातें दूल्हे के साथ साझा की थी। बातों बातों में दुल्हन ने दूल्हे को उसके साथ हुए रेप की बात नहीं बताई। जिसके बाद दूल्हे ने परिवार को यह बात बताई और सभी से निर्णय लेने के बाद दुल्हन को उसके घर छोड़ा आया।

विवाह को फैमिली कोर्ट ने अमान्य घोषित किया-

दूल्हे ने 2019 में ही फैमिली कोर्ट में धोखे में रखकर शादी करने का आरोप लगाया था और शादी को अमान्य करने का आवेदन दिया था। फैमिली कोर्ट ने युवक की पत्नी से जवाब के लिए नोटिस जारी किया लेकिन वह 3 साल में एक बार भी हाजिर नहीं है। जिसके बाद पति के तर्क के आधार पर कोर्ट ने विवाह को शून्य घोषित कर दिया।

On the day of honeymoon, the husband was told about the rape, the groom reached the court, the marriage broke with the truth of the bride.

On the day of honeymoon, it became costly for the wife to tell the truth related to life to her husband and after knowing the truth, the groom reached the court and filed for divorce. The bride wanted to spend a new life by sharing the truth related to her life with her husband on the honeymoon. But knowing about the rape before marriage, the groom filed an application to end the marriage, accusing him of hiding the truth.

The whole matter is related to Gwalior district where when the bride told her husband the truth about being raped on the day of honeymoon, the angry groom left the bride the very next day and applied in the family court to end the marriage. The court gave the bride ample opportunity to express her point of view, but in the midst of the hearing that lasted for 3 years, the bride did not present her side even once by reaching the court. After which the court declared the marriage invalid.

The bride told that the uncle’s boy had raped-

After knowing the truth of the bride, the groom decided to end the marriage. After which there was a Panchayat between both the families, then everyone was surprised to know the whole truth in front. The one who raped the girl was her maternal uncle’s son. After the marriage broke up, the bride also filed a rape case against the accused youth, but the groom was not ready to keep the bride with him. The groom applied in the court that the marriage was done by hiding the truth by deceit, so the marriage should be declared invalid.

what was the matter-

A 25-year-old youth living in Gwalior was married in 2019 to a 21-year-old girl from Gwalior. When the groom was telling the truth related to his life to the bride on the honeymoon, then the bride also shared some things of her personal life with the groom. In the talks, the bride did not tell the groom about the rape with her. After which the groom told this to the family and after taking a decision from everyone, left the bride at his house.

The marriage was declared invalid by the family court-

In 2019 itself, the groom had accused the family court of marrying by deceit and had applied for annulment of the marriage. The family court issued notice to the young man’s wife for a reply but she is not present even once in 3 years. After which the court declared the marriage void on the basis of husband’s argument.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button