FEATUREDआजमगढ़उत्तर प्रदेश

दहेज : बुलेट की मांग, विवाहिता को घर से निकाला।

जब पिता की पगड़ी झुकती है, ढेरों प्यार, दुलार और आशीष से, जब बेटी विदा होती है, तो बहू बेटी बनने की हर संभव प्रयत्न करती है, सही लोगों की आंखों में वह हर क्षण खटकती है। दहेज कुप्रथा की अग्नि में जाने कितनी बेटी रोज बलि चढ़ती है। लाख कोशिशों के बावजूद इंसानियत ही मरती है।

पीड़िता और अलीगढ़ एसएसपी को दिए तहरीर की प्रति।

अलीगढ़ थाना रोरावर क्षेत्र के अंतर्गत एक विवाहिता कशिस पत्नी जावेद ने आरोप लगाया है कि दहेज लोभी ससुराल पक्ष व पति ने बुलेट गाड़ी की मांग को लेकर मारपीट कर घर से निकाल दिया। विवाहिता की शादी 2 साल पूर्व पड़ोस के ही रहने वाले जावेद से हुई थी। विवाहिता के माता पिता ने शादी में सात लाख रुपए खर्च कर बेटी की विदाई कराई। विवाह के बाद ही माता पिता की मृत्यु हो गई।

ससुराल पक्ष, दहेज की मांग को लेकर आए दिन विवाहिता को शारीरिक और मानसिक उत्पीड़न करते रहे। पति भी नशे में विवाहिता के साथ गुदामैथुन कर कष्ट पहुंचाता था। नंदोई रेहान विवाहिता पर गलत नजर रखता, आए दिन छेड़छाड़ करता रहता, विरोध करने पर विवाहिता को मारपीट कर घर से निकाल दिया और मोबाइल भी उसका तोड़ दिया, शिकायत लेकर विवाहिता थाने पहुंची तो पुलिस ने पारिवारिक मामला बताकर पल्ला झाड़ लिया।

विवाहिता ने पुलिस कार्रवाई ना होते देख परेशान होकर एसएसपी अलीगढ़ की शरण में पहुंची और कार्रवाई की मांग की, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने पीड़िता को हर संभव मदद का भरोसा दिया है और जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button