FEATUREDउत्तर प्रदेशराजनीतिलखनऊविधानसभा चुनाव

बृजेश पाठक होंगे यूपी के नए उपमुख्यमंत्री।

योगी आदित्यानाथ आज शाम 4:00 बजे लखनऊ के इकाना स्टेडियम में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे और साथ में नए मंत्रिमंडल में शामिल मंत्री भी शपथ लेंगे। शपथ लेने के साथ ही योगी आदित्यनाथ इतिहास में इससे पहले उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री बनेंगे जो 5 साल सत्ता में रहने के बाद लगातार दूसरी बार सत्ता संभालेंगे। भाजपा के अंदरूनी सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि उत्तर प्रदेश के दूसरे उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक होंगे। वहीं पहले उप मुख्यमंत्री के रूप में केशव प्रसाद मौर्या का नाम तय हो गया है।

Photo : Social media

सूत्रों के हवाले से प्राप्त खबर अनुसार उत्तर प्रदेश के पूर्व डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा योगी मंत्रिमंडल में इस बार शामिल नहीं होंगे। योगी सरकार के पहले कार्यकाल में बृजेश पाठक कानून मंत्री का दायित्व निभा चुके हैं और विधानसभा चुनाव के दौरान पार्टी द्वारा बड़े ब्राह्मण चेहरे के तौर पर पेश किए गए थे। उत्तर प्रदेश की सियासत में बड़ा ब्राह्मण चेहरा माने जाने वाले बृजेश पाठक यूपी बीजेपी में कद्दावर नेता और योगी आदित्यनाथ के विश्वस्त माने जाते हैं। मंत्री रहते हुए सरकारी नीतियों को आम जन तक पहुंचाने व पार्टी के विचारधारा को प्रदेश में प्रचार प्रसार करने में बृजेश पाठक का खासा योगदान रहा है।

बृजेश पाठक को उत्तर प्रदेश की राजनीति का बड़ा चेहरा माना जाता है। 2004 में लोकसभा सदस्य के रूप में अपनी राजनीतिक पारी शुरू करने वाले बृजेश पाठक 2017 में पहली बार विधानसभा पहुंचे थे। कभी बहुजन समाजवादी पार्टी का ब्राह्मण चेहरा माने जाने वाले बृजेश पाठक ने छात्र नेता से कैबिनेट मंत्री तक का सफर तय किया है। अपने जीवन का पहला विधानसभा चुनाव कांग्रेस के टिकट पर लड़ा था जिसमें उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

बृजेश पाठक का जन्म 25 जून 1964 को हरदोई जिले के मल्लावा कस्बे के मोहल्ला गंगाराम में हुआ था, उनके पिता का नाम सुरेश पाठक था। कानून की पढ़ाई करते हुए अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत छात्र राजनीति से की और 1989 में लखनऊ विश्वविद्यालय छात्र संघ के उपाध्यक्ष चुने गए। 1990 में लखनऊ विश्वविद्यालय के छात्र संघ अध्यक्ष भी रहे।

अपने राजनीतिक कैरियर में तमाम उतार-चढ़ाव के बीच बृजेश पाठक ने 2017 विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी का दामन थाम लिया और 2017 विधानसभा चुनाव में लखनऊ सेंट्रल विधानसभा सीट से अपनी किस्मत आजमाई। 2017 विधानसभा चुनाव में बृजेश पाठक ने समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता व कैबिनेट मंत्री रविदास मेहरोत्रा को लगभग 5000 मतों के अंतर से हराया और पहली बार विधानसभा पहुंचे। बीजेपी की सरकार गठन के बाद बृजेश पाठक को कानून मंत्री का दायित्व दिया गया। अब योगी सरकार के दूसरे कार्यकाल में बृजेश पाठक को उप मुख्यमंत्री का बड़ा दायित्व दिया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button