FEATUREDअलीगढ़उत्तर प्रदेशराजनीतिलखनऊविधानसभा चुनाव

यूपी की लड़ाई लड़ने के लिए लोकसभा से अखिलेश संग आजम ने दिया इस्तीफा।

अखिलेश बनेंगे यूपी में नेता प्रतिपक्ष और सदन में घेरेंगे योगी को।

यूपी विधानसभा में समाजवादी पार्टी को मिली शिकस्त के बाद लगातार कयास लगाए जा रहे थे कि सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव विधायकी से इस्तीफा देकर लोकसभा में बने रहेंगे। लेकिन सभी अटकलों पर विराम लगाते हुए सपा सुप्रीमो व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सपा वरिष्ठ नेता आजम खान के साथ लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा देकर सबको चौका दिया और संदेश भी दिया कि उत्तर प्रदेश की लड़ाई विधानसभा में रहकर लड़ेंगे।

सूत्रों की माने तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यकाल में नेता प्रतिपक्ष की भूमिका अखिलेश यादव निभाएंगे और योगी सरकार को घेरने का कोई मौका हाथ से गंवाना नहीं चाहेंगे। विधानसभा सदन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव नेता प्रतिपक्ष की भूमिका में रहेंगे और दोनों के बीच नोकझोंक दिलचस्प होगी।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मुलाकात करते अखिलेश यादव। Photo : Social media

इस बार विधानसभा चुनाव में सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव करहल विधानसभा से जीतकर सदन पहुंचे हैं और आजमगढ़ के सांसद पद से अखिलेश यादव ने शिफा दे दिया है। यूपी की सियासत में अखिलेश यादव के इस फैसले को बड़ी रणनीति के तौर पर देखा जा रहा है और अखिलेश यादव अभी से 2027 के तैयारी में जुट जाना चाहते हैं। सपा सुप्रीमो के साथ सपा कद्दावर नेता आजम खान ने भी लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है और रामपुर सदर सीट से विधायक बने रहेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button