उत्तर प्रदेशभारतमुजफ्फरनगर

सरकार साथ नहीं देती तो यूक्रेन से नहीं आ पाते अपने घर, 10 किलोमीटर तक पैदल चलकर पहुंचे रोमानिया बॉर्डर

मुजफ्फरनगर एक्सक्लूसिव...

रूस और यूक्रेन के बीच जारी भीषण युद्ध में भारतीय नागरिकों की एक बड़ी संख्या यूक्रेन में फंसी हुई है और भारत सरकार द्वारा सभी नागरिकों को सकुशल बाहर निकालने के लिए “ऑपरेशन गंगा” चलाया जा रहा है। ऑपरेशन गंगा के तहत वायु सेना के मदद से भारतीय नागरिकों को एअरलिफ्ट कर सकुशल वतन वापसी के प्रयास जारी हैं। जिसके लिए भारत सरकार ने तीन केंद्रीय मंत्रियों को यूक्रेन के पड़ोसी देशों में भेजा है। मुजफ्फरनगर के यीशु और विकास दो ऐसे छात्र हैं जो मेडिकल की पढ़ाई कर रहे यूक्रेन गए थे और प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा चलाए जा रहे हैं ऑपरेशन गंगा के तहत दोनों वापस अपने घर उत्तर प्रदेश के जनपद मुजफ्फरनगर में आ गए हैं। जिसके बाद उनके घर वालों ने प्रधानमंत्री मोदी को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा है कि यदि सरकार द्वारा प्रयास नहीं होते तो हमारे बच्चे घर वापस नहीं आ पाते ‌।

यूक्रेन से वापस लौटे छात्र को परिजनों ने गले लगा लिया।

यूक्रेन से लौटे मुजफ्फरनगर के इशू ओर विकास कुमार

रूस और यूक्रेन के हमले के बाद हज़ारों की तादाद में भारतीय फंसे

10 किलोमीटर तक पैदल चलकर पहुंचे रोमानिया बॉर्डर

रोमानिया बॉर्डर पर भारतीय दूतावास ने की मदद, नहीं तो बॉर्डर नहीं होता पास

यूक्रेन में एमबीबीएस की डिग्री हासिल करने गए थे दोनों छात्र

विकास कुमार के परिजनों ने सभी भारतीयों के लिए ईश्वर से की प्रार्थना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर हाथ में लेकर लगाए जिंदाबाद के नारे

सरकार साथ नहीं देती तो बच्चे नहीं आ पाते अपने घर

रामपुरी निवासी ईशु और खतौली निवासी विकास कुमार लौटे अपने वतन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button