मध्यप्रदेशसिंगरौली

CETI में प्रशिक्षण से NCL कर्मियों के हुनर को मिला नई उड़ान।

NCL कर्मियों के चहुमुखी विकास के लिए CETI में हो रहे बेहतर प्रशिक्षण।

नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड, सिंगरौली (एनसीएल) अपने कर्मियों के चहुमुखी विकास के लिए निरंतर उच्च स्तरीय प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन कर रही है। एनसीएल ने नियमित प्रशिक्षण कार्यक्रमों के अतिरिक्त फरवरी एवं मार्च माह में 14 प्रोग्राम के जरिये 900 लोगों को प्रशिक्षण देने की कार्य योजना तैयार की थी, जिसमें से 11 कार्यक्रम हो चुके है शेष 3 आने वाले दिनों में आयोजित किए जाएंगे। प्रशिक्षण कार्यक्रमों में ज़्यादातर तकनीकी संबंधी कार्यक्रम थे जिनमें एनसीएल में प्रयुक्त होने वाली विभिन्न मशीनों के रख रखाव एवं उपलब्धता, ब्रेक डाउन एनालिसिस सहित अन्य पहलूओं पर विस्तार से चर्चा हुई।

एनसीएल में अधिभार हटाने के लिए विशालकाय ड्रैगलाइन मशीनों का उपयोग होता है, कंपनी के पास ऐसी 23 मशीनों का बेड़ा है। इन कीमती व भीमकाय मशीनों के संचालन एवं रख-रखाव के लिए तकनीकी रूप से दक्ष कर्मियों की आवश्यकता होती है, इसी दिशा में एनसीएल के मानव संसाधन विभाग ने ड्रैगलाइन से जुड़े विभिन्न विषयों पर प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन किया। एनसीएल में खदान में मशीनों एवं अन्य कार्यों के लिए बिजली आधारित संरचनाओं की भी आवश्यकता होती है, इन सब के लिए कुशल कर्मियों की जरूरत भी होती है। जिसके लिए एनसीएल अपने अधिकारी, पर्यवेक्षण, परिचालन से जुड़े कर्मियों को लागतार ट्रेनिंग दे रही है। इस कार्यक्रम के लिए राष्‍ट्रीय विद्युत प्रशिक्षण प्रतिष्‍ठान (एनपीटीआई – NPTI) से विशेष प्रशिक्षक बुलाये गए थे।

इन कार्यक्रमों के अतिरिक्त प्रबंधन कुशलता पर एक वर्कशॉप का आयोजन किया गया, जिससे कर्मियों की अपने कार्यक्षेत्र पर बेहतर निर्णय लेने की क्षमता में विकास होगा। आगामी समय में महिला सशक्तिकरण, महिलाओं के अधिकार, टीम मेनेजमेंट जैसे अन्य विषयों पर भी कार्यक्रम आयोजित किए जाने है। आने वाले महीनों में भी एनसीएल 15 से अधिक कार्यक्रमों से 400 से अधिक कर्मियों को विशेष प्रशिक्षण देने जा रही है। जिसमें बेहतर ब्लास्टिंग तकनीक, मशीनों के रख रखाव, आरएंडआर पॉलिसी, स्ट्रैस मेनेजमेंट एवं अन्य प्रबंधन कौशल से जुड़े कार्यक्रम शामिल है।

सभी प्रशिक्षण एनसीएल मानव संसाधन विभाग द्वारा एमडीआई (मैनेजमेंट डेव्लपमेंट इंस्टीट्यूट – MDI) में आयोजित किए गए है। एमडीआई की स्थापना प्रबंधन कौशल को विकसित करने के उद्देश्य से की गई थी। एनसीएल अपने कर्मियों को तकनीकी के साथ-साथ प्रबंधकीय रूप से और दक्ष करने के लिए तेजी से कार्य कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button