FEATUREDभारतमनोरंजनराजनीति

THE KASHMIR FILES: एक अमानवीय, क्रूर और भ्रष्ट दिमाग वाला कश्मीरी हिंदुओं के कत्लेआम पर हंसेगा: भाजपा।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल 1990 के दशक कश्मीरी पंडितों के नरसंहार (Genocide) पर बनी फिल्म “द कश्मीर फाइल्स” (The Kashmir Files) को भाजपा शासित राज्यों में टैक्स फ्री (Tax Free) किए जाने पर निशाना साधते हुए दिल्ली विधानसभा (Delhi Assembly) में गुरुवार को फिल्म निर्माताओं को यूट्यूब (YouTube) पर रिलीज करने के साथ ही ठहाके लगाते हुए कहा था कि मैं तो छोटी पोस्टर भी नहीं लगने दूंगा।

भाजपा आईटी सेल हेड अमित मालवीय का अरविंद केजरीवाल पर ट्वीट। Photo : Twitter Screenshot

भारतीय जनता पार्टी नेता और पार्टी आईटी सेल के (BJP IT Cell) अध्यक्ष अमित मालवीय (Amit Malviya) ने अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को आड़े हाथों लेते हुए ट्विटर (Twitter) पर लिखा कि सिर्फ एक अमानवीय, क्रूर और भ्रष्ट दिमाग वाला इस तरह कश्मीरी हिंदुओं के कत्लेआम पर हंस सकता है और उससे इंकार कर सकता है। अरविंद केजरीवाल ने कश्मीर फाइल्स को झूठी फिल्म का कर हिंदू समुदाय के जख्मों को कुरेदने का काम किया है, जो अपने ही देश में बीते 32 साल से शरणार्थी की तरह रहने को मजबूर है।

प्रधानमंत्री को विवेक अग्निहोत्री के चरणों में शरण लेनी पड़ी-अरविंद केजरीवाल।

दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भाजपा शासित राज्यों में फिल्म द कश्मीर फाइल्स को टैक्स फ्री किए जाने व पोस्टर लगाए जाने के बात का मजाक उड़ाते हुए सदन में तीखा प्रहार किया। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि भाजपा को इस फिल्म का प्रचार बंद करना चाहिए क्योंकि कुछ लोग इस फिल्म का नाम पर करोड़ों कमा रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि प्रधानमंत्री को विवेक अग्निहोत्री के चरणों में शरण लेनी पड़ रही है, इसका मतलब है कि 8 साल में प्रधानमंत्री ने कोई कार्य नहीं किया है। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कश्मीर फाइल्स टैक्स चोरी करने की मांग क्यों हो रही है? इसे यूट्यूब पर अपलोड कर देना चाहिए ताकि देश की सभी जनता मुफ्त में देख सके।

भाजपा कार्यकर्ताओं व नेताओं से सवाल करते हुए केजरीवाल ने कहा कि हिटलर भी कम से कम अपने चमचों को नौकरी देता था, क्या प्रधानमंत्री ने उनके बच्चों को नौकरी, बिजली और दवाई दी? दिल्ली में सिर्फ अरविंद केजरीवाल काम आया। वह दिल्ली में सभी लोगों के साथ भाजपाइयों को भी सुविधाएं दे रहा है। पहले भाजपा वाले कृषि कानूनों पर जो शोर मचाते थे, लेकिन कृषि कानूनों के मामले में केंद्र सरकार के बैकफुट पर आने के बाद वह चुप हो गए और शराब की दुकानों दारू पर शोर मचाने लगे, मगर अब शराब पर भी शोर बंद है क्योंकि कश्मीर फाइल सा गई है और उसके पोस्टर लगाने शुरू कर दिए हैं। भाजपा नेताओं पर तीखा हमला करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जब नेता रात को घर जाएंगे और बच्चे पूछेंगे कि पापा क्या काम करते हैं तो यही बताएंगे की पिक्चरों के पोस्टर लगाते हैं?

अरविंद केजरीवाल द्वारा सदन में ठहाके लगा लगा कर कश्मीर फाइल्स फिल्म व भाजपा नेताओं का मजाक उड़ाया गया, पर पलटवार करते हुए भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने अरविंद केजरीवाल को आड़े हाथों लिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button