FEATUREDभारत

बिना इंटरनेट कनेक्शन के कीपैड वाले फोन से भी कर सकते हैं यूपीआई पेमेंट।

UPI (Unified Payment Interface) एक ऐसा तरीका है जिससे कहीं भी किसी भी समय अपने बैंक अकाउंट से पैसे ट्रांसफर किए जा सकते हैं। आपने ऑनलाइन खरीदारी किया हो या बाजार में खुदरा खरीदारी किया हो, किसी भी प्रकार की खरीदारी पर आप यूपीआई से पेमेंट कर सकते हैं। यूपीआई को NPCI (National payment corporation of India) और RBI (Reserve Bank of India) ने 11 अप्रैल 2016 में शुरू किया था। यूपीआई एक रियल टाइम पेमेंट सिस्टम है, जो IMPS (Immediate Payment Services) तकनीक पर काम करता है, जो कैशलेस पेमेंट करने में मदद करता है। यूपीआई के माध्यम से एक खाते से दूसरे खाते में बीना खाता नंबर जाने तत्काल पैसा ट्रांसफर किया जा सकता है। इसका इस्तेमाल उपभोक्ता VPA (Virtual Payment Address) के जरिए आसानी से कर सकता है।

भारत देश के लगभग हर परिवार में एक सदस्य तो आज के दौर में ऐसा है जो स्मार्टफोन कब्जा कीपैड फोन अवश्य प्रयोग में लाता है। आसानी तरीके से प्रयोग में आने के लिए कीपैड का इस्तेमाल ज्यादा होता है और अक्सर लोग कहते हैं कि स्मार्टफोन में बहुत सारा झंझट होता है। डिजिटल पेमेंट के जमाने में कीपैड फोन से यूपीआई का प्रयोग कर पैसा ट्रांसफर करने की तकनीक आने के बाद कीपैड यूजर के लिए आसानी होगा। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने कीपैड फोन से यूपीआई से पैसे ट्रांसफर करने का समाधान निकालते हुए कीपैड फोन के यूजर्स के लिए UPI123Pay नया तरीका लेकर आया है, जिससे आसानी से कैशलेस पेमेंट हो सकता है। UPI123Pay में चार अलग-अलग ऑप्शन मिलते हैं- एप बेस्ट, मिस्ड कॉल, इंटरएक्टिव वॉइस रिस्पांस (IVR) और प्रॉक्सिमिटी (Sound based payment), इन ऑप्शंस का प्रयोग कर कीपैड फोन से कैशलेस पेमेंट संभव बनाया जा सकता है।

कीपैड यूजर को पेमेंट करने के लिए मर्चेंट आउटलेट पर दिख रहे नंबर पर मिस कॉल देना होगा और उसके बाद तीन आसान प्रक्रिया से पेमेंट संभव किया जा सकता है। पैसा देने वाला पैसा लेने वाले के फोन नंबर पर मिस कॉल कर सकता है, पैसा देने वाले व्यक्ति को एक कॉल आएगी जिसमें उसे उसकी करने को कहा जाएगा कि पेमेंट आप करना चाह रहे हैं या नहीं, इसके बाद यूपीआई पिन (UPI PIN) डालने पर या ट्रांजैक्शन पूरी हो जाएगी। इस पूरी प्रक्रिया को इस प्रकार आसानी से समझे कि कीपैड यूजर को आईवीआर नंबर पर कॉल करना होगा और इसके बाद यह चुनना होगा कि किस सेवा पर पैसे भेजने की जरूरत है जैसे एलपीजी गैस, मोबाइल बैलेंस आदि। फिर जिसे पैसे भेजना चाहते हैं उनका फोन नंबर लिखने के बाद पैसा ट्रांसफर करने की राशि अंकित करनी होगी और अंत में यूपीआई पिन डालना होगा।

UPI123Pay से पैसे ट्रांसफर करने की तकनीक को इस प्रकार समझा जा सकता है। आईवीआर नंबर पर कॉल, दिए गए ऑप्शन में से चयन और भुगतान का चयन करना होगा। कीपैड फोन में गैस सर्विस शुरू करने के बाद और पेमेंट करने से पहले ग्राहक को अपना खाता नंबर से जोड़ना होगा। अपने डेबिट कार्ड की मदद से यूपीआई पिन बनाना होगा और तीन सेट होने के बाद यूजर अपने लेनदेन के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। इस सेवा के शुरू होने के बाद स्मार्टफोन वालों सहित ग्रामीण अंचलों में रहने वाले लोग जो कीपैड फोन प्रयोग में लाते हैं, वह लाभ उठा सकते हैं। गांव में रहने वाली गरीब जनता जो महंगे एंड्राइड फोन वहन नहीं कर सकते हैं, उनके लिए यह सुविधा बहुत लाभकारी होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button