उत्तर प्रदेशराजनीतिविधानसभा चुनावसोनभद्र

कान पकड़ कर उठक बैठक करते विधायक प्रत्याशी का वीडियो वायरल।

ख़बर यूपी के जनपद सोनभद्र से है। राजनीति में कुर्सी और सत्ता का लोभ लोगो से क्या क्या नही कराती। इसका ताज़ा उदाहरण जिले में वायरल हो रहा एक विडियो है। जिसमे विधानसभा 401 रॉबर्ट्सगंज के भाजपा प्रत्याशी भूपेश चौबे, कान पकड़कर उठक बैठक करते हुए नजर आ रहे है। जानकारी के अनुसार 22 फरवरी को रॉबर्ट्सगंज जिला मुख्यालय के समीप रॉबर्ट्सगंज से वर्तमान भाजपा विधायक व प्रत्याशी भूपेश चौबे के कार्यालय पर भाजपा के त्रिदेव सम्मेलन यानी बूथ लेवल एजेंट, बूथ अध्यक्ष और बुथ प्रभारी का सम्मेलन आयोजित किया गया था। जिसमें भाजपा प्रत्याशी भूपेश चौबे मंच से कार्यकर्ताओं के सामने कान पकड़कर उठक बैठक करते नजर आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि प्रत्याशी कार्यकर्ताओं से 5 साल में हुई गलतियों के लिए माफी मांग रहे हैं। कह रहे हैं कि 5 साल में कार्यकर्ताओं का फोन नहीं उठाने पर वह माफी मांग रहे हैं। मंच से प्रत्याशी के इस हरकत का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

वहीं वायरल हो रहे इस विडियो को लेकर विपक्षी पार्टियां अब बीजेपी पर हमला कर रही है और तंज भी कस रही हैं। इस वीडियो को लेकर रॉबर्ट्सगंज विधानसभा से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी अविनाश कुशवाहा ने कहा…..भारतीय जनता पार्टी पूरी एक नाटक की मंडली है और यही नाटक सोनभद्र में भी देखने को मिला कि भारतीय जनता पार्टी के विधायक कान पकड़कर उठक बैठक कर रहे हैं। दरअसल 2017 में जब जनता ने उनकी बातों व वादों पर भरोसा करके उनको सत्ता में बैठाया तो इन्होंने जनता का हाथ छोड़कर के जनता का गला पकड़ लिया और लगातार बढ़ती हुई महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार से जनता त्रस्त हो गई। यहां के क्षेत्रीय विधायक ने भी कोई काम नहीं किया उनका नारा था कि “गिट्टी बालू सस्ता होगा, हर गरीब का घर पक्का होगा”। लेकिन गिट्टी बालू 5 गुना महंगा हो गया इस कदर भ्रष्टाचार मचा दिया। क्षेत्र में गए नहीं, जनता की समस्या का समाधान किया नहीं, जनता की अपेक्षाओं पर खरे उतरे नहीं और जनता के सुख सुविधाओं का ध्यान नहीं रखा। जनता से संवाद तक स्थापित नहीं किया। अब जनता जब उनको कान पकड़कर गद्दी पर से उतरने वाली है तो यह नौटंकी मंडली के एक सदस्य माननीय विधायक जी फिर से कान पकड़ कर उठक बैठक कर रहे हैं। यही नहीं इस बात को कबूल कर रहे हैं कि उन्होंने जानबूझकर जनता के साथ धोखा किया। माफी मांगने वाले को तो जनता माफ कर देती है लेकिन जनता को धोखा देने वाले को जनता कभी माफ नहीं करती। जितना भी काम हम लोगों ने शुरू किया था उसका आधा भी काम यह पूरा नहीं कर पाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button