सोनभद्र

एक शाम शहीदों के नाम विषयक काव्य संध्या व श्रद्धांजलि सभा का आयोजन।

मातृभूमि की रक्षा को हर,
सैनिक भारत का तैयार।

शक्तिनगर। सोन संगम शक्तिनगर की ओर से, आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत “एक शाम शहीदों के नाम”, शीर्षक से काव्य संध्या आयोजित की गई। कार्यक्रम के प्रारंभ में मंच पर विराजमान कवियों एवं अतिथियों का स्वागत विजय कुमार दुबे के द्वारा किया गया। कार्यक्रम के आयोजन को संदर्भित करते हुए डॉ मानिक चंद पांडेय ने बताया कि यह आयोजन देश के लिए कुर्बान होने वाले वीर शहीदों के लिए समर्पित है। इस आयोजन का उद्देश्य उन वीर जवानों को भी याद करना है जो हंसते-हंसते फांसी के फंदे को चूम लिया, अंग्रेजों की गोली से अपने को कुर्बान कर दिया किंतु आजादी के 75 साल बाद भी वे नेपथ्य में है।

काव्य संध्या का श्रीगणेश सोमनाथ सिंह यादव को वीर शहीदों को नमन करते हुए इन पंक्तियों से हुआ कि

“देश के खातिर जन्म लिए तुम,
लेना जन्म दोबारा।
जो सरहद पर हुए शहीद,
उनको नमन हमारा।।”

वीर जवानों के प्रति अपने भाव व्यक्त करते हुए बहर बनारसी ने अपने उद्गार कुछ इस प्रकार व्यक्त किया-

“हमारे मुल्क हिंदुस्तान की बात करो।
जहां की खाते हो रोटी, वहां की बात करो।।”

काव्य संध्या को ऊंचाई प्रदान करते हुए माहिर मिर्जापुरी उर्फ कृपाशंकर ने देश के जवानों के प्रति अपनी भावना को कुछ इस अंदाज में बयां किया-

“देश की आन पर जान दे देंगे हम।
वंदे मातरम वंदे मातरम।।”

रमाकांत पांडे ने देश के शहीदों को विनम्र नमन करते हुए अपनी कविता में कहा कि-

“भारत मां का बेटा हूं,
नहीं किसी से डरता हूं।”

काव्य संध्या की अध्यक्षता करते हुए अपर महाप्रबंधक (तकनीकी सेवाएं) एनटीपीसी शक्तिनगर से पधारे विनय कुमार अवस्थी ने अपनी कविता भारतीय सैनिक की आकांक्षा के अंतर्गत अभिव्यक्ति कुछ इस प्रकार किया-

“बात करें कर्तव्य मात्र की,
कभी नहीं अपने अधिकार।
मान तिरंगा रखने सैनिक,
बलिवेदी करता स्वीकार।”

रामागुंडम से ऑनलाइन जुड़े अपर महाप्रबंधक आलोक चंद ठाकुर ने अपनी देशभक्ति की कविता से पूरी काव्य संध्या को देश भक्ति के रंग में रंग दिया। एनटीपीसी राजभाषा अनुभाग के वरिष्ठ प्रबंधक ओम प्रकाश ने अपनी कविता के माध्यम से आधुनिक समाज की संवेदना को कविता के माध्यम से व्यक्त करते हुए शहीदों की कुर्बानी से जोड़ा। अन्य कवियों में श्रवण कुमार, मिथलेश इत्यादि ने उत्साहवर्धक अपनी काव्य प्रस्तुति किया। कार्यक्रम का संचालन रमाकांत पांडे तथा धन्यवाद ज्ञापन वरिष्ठ मंडलीय प्रबंधक ओरिएंटल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के राम कृष्ण राम ने किया। कार्यक्रम में एसडी पांडेय, दुर्गेश्वर मिश्र, अरविंद कुमार निगम, डॉ विनोद कुमार पांडे, डॉ छोटेलाल, डॉ अनिल कुमार दुबे, डॉ दिनेश कुमार, उदय नारायण पांडे, मुकेश कुमार, घनश्याम, अच्छेलाल, सचिन कुमार मिश्र के साथ साथ अन्य लोग उपस्थित रहे। दुर्घटना में शहीद हुए बिपिन रावत तथा अन्य शहीदों की श्रद्धांजलि से कार्यक्रम समाप्त हुआ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button