FEATUREDसिंगरौली

वर्षों से मौत का तमाशा देख रहा जिला प्रशासन व एनसीएल प्रबंधन: प्रवीण सिंह।

सिंगरौली। आए दिन जिले में लगातार सड़क माध्यम से होती दुर्घटनाओं के कारण सिंगरौली जिले का दो पहिया वाहन से चलने वाला व्यक्ति घबराया व भयभीत रहता है। शाम को जब वह घर सुरक्षित पहुंच जाता है तब उसके परिवार जन चैन की नींद सोते हैं। जिसका प्रमुख कारण एनसीएल प्रबंधन एवं जिला प्रशासन है, जो बेकाबू कोयला परिवहन ट्रेलरों व दैत्यनुमा हाईवा पर लगाम कसने में नाकाम है। वर्षों से भारतीय जनता पार्टी की सरकार प्रदेश एवं केंद्र में विद्यमान है, जिले में न तो कोई रिंग रोड बनाई जा रही है और न तो किसी अतिरिक्त सड़क का निर्माण हो रहा है। जबकि अन्य जिलों में तमाम रिंग रोड व बाईपास रोड का निर्माण बहुत तेजी से चल रहा है। सिंगरौली में विकास के लिए पर्याप्त फंड होने के बावजूद भी जिला प्रशासन द्वारा जनता के सरोकार से जुड़े नवीन कार्य नहीं कराया गया जिससे आम जनमानस को राहत मिल सके। जिले के सभी अधिकारी एवं एनसीएल प्रबंधन सिर्फ अपना सिंगरौली में समय बिताने का कार्य कर रहे हैं। सिंगरौली वासियों के लिए न तो इनकी कोई नई सोच है और न विकास पर किसी भी प्रकार की कार्य योजना। जिले में एस्सार कंपनी स्थापित हुई लेकिन उसके लिए अलग से परिवहन की कोई व्यवस्था नहीं की गई। जयंत-निगाही-अमलोरी की खदान भी केवल आम नागरिकों को चलने वाली रोड पर ही निर्भर है। जबकि एनसीएल प्रबंधन यदि चाहे तो जयंत से होते हुए निगाही खदान व अमलोरी होते हुए अमलोरी बस्ती से अलग सड़क का निर्माण कर सीधे परसौना पहुंचा सकती है। जिससे बड़ी वाहनों का परिचालन परसौना से जयंत के लिए आसान हो जाएगा और माजन मोड़ चौराहे पर वाहनों की अतिरिक्त भीड़ कम हो जाएगी। इस तरह से बड़ी वाहनों का महाजन मोड़ व शहर की ओर आने की आवश्यकता ही नहीं होगी। ठीक इसी प्रकार यदि जयंत से पुरानी दुद्धिचुआ रोड सिंगरौली जाने के लिए चालू कर दी जाए तो भारी वाहनों से निजात मिल जाएगा किंतु एनसीएल प्रबंधन भी सिंगरौली वासियों को लूटने में लगा है। वही हाल जिला प्रशासन का है।

सिंगरौली वासियों के लिए सत्ता दल के जनप्रतिनिधि कुछ भी विकास करने में नाकाम है। केवल सत्ता के नशे में चूर है उन्हें सिंगरौली वासियों की कोई फिक्र नहीं है। यदि सिंगरौली वासियों की जान जाती है तो जाए जिला प्रशासन और एनसीएल प्रबंधन सिंगरौली के आम लोगों की जान बच सके। इसके लिए जल्द से जल्द नई रोड बना कर दे तो आए दिन होने वाली दुर्घटनाओं से सिंगरौली वासी बच सकते हैं। यदि जिला प्रशासन और एनसील प्रबंधन ने इस विषय को गंभीरता से नहीं लिया तो आने वाले समय में हम सब बड़ा आंदोलन कर बड़ी वाहनों को बंद कराने का काम करेंगे। उक्त बातें युवा कांग्रेस पूर्व जिला अध्यक्ष प्रवीण सिंह चौहान ने जिले में आए दिन हो रही सड़क दुर्घटनाओं में मौतों पर दुख जताते हुए कही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button