Crime NewsFEATUREDसिंगरौली

क्या कानून से ऊपर है भगवती मानव कल्याण संगठन ?

सिंगरौली : समाज सेवा की बात करने वाले सामाजिक एवं धार्मिक संगठन भगवती मानव कल्याण संगठन इन दिनों लगातार विवादों में घिरता जा रहा है विवादों के अलावा दूसरी तरफ शराब कारोबारियों मैं भी रोष व्याप्त होता जा रहा है वहीं दूसरी तरफ आम लोगों को कभी भगवती मानव कल्याण संगठन के लोगों का चेहरा अपराधियों की तरह दिखने लगा है यह अच्छी बात है धर्म के नाम पर कार्य करने वाले संगठन यदि खुद भी कानून को अपने हाथ में लेंगे ऐसे में अपराधी एवं इस तरह के धार्मिक संगठनों के बीच क्या फर्क रह जाता है सबसे बड़ा सवालिया निशान तो कानून व्यवस्था को बनाए रखने वाली पुलिस पर भी खड़ा होता है कि आखिरकार पुलिस के रहते हैं कई दर्जन की संख्या में इस तरह के अपराधी बेखौफ घूम रहे हैं

जाने पूरा मामला

दरअसल पूरा मामला बीते शनिवार की देर रात लगभग 10:30 बजे का बताया जा रहा है मिली जानकारी के अनुसार देर रात सिंगरौली जिले के बरगवां थाना क्षेत्र अंतर्गत वर्ग में मुख्य बाजार एवं रेलवे स्टेशन के समीप स्थित शराब की दुकान पर कार्यरत शराब व्यवसाय अपने कार्य में मसगुल थे ठीक उसी वक्त लगभग 25 से 30 की संख्या में भगवती मानव कल्याण संगठन के लोग लाठी-डंडों के साथ वहां पहुंच गए जिसके बाद से उन्होंने वहां खड़े वाहन को नुकसान पहुंचाया एवं जिसके बाद शराब व्यवसाई के साथ में भी संगठन के लोगों ने मारपीट शुरू कर दी और मारपीट किया घटना को उन्होंने तब तक अंजाम दिया जब तक कि शराब व्यवसाई अधमरा नहीं हो गया, जिसके बाद से घटनाक्रम को अंजाम देने वाले अभी वहां से फरार हो गए

मां भगवती संगठन के मनबढ़ो द्वारा हमले में घायल शराब व्यवसाई।

पुलिस व्यवस्था पर उठ रहा सवाल

बीती रात शराब व्यवसाई के साथ हुई मारपीट की घटना में एक तरफ जहां भगवती मानव कल्याण संगठन पर उंगली उठ रही है तो वहीं दूसरी तरफ कानून व्यवस्था के लिए जिम्मेदार पुलिस पर भी सवालिया निशान खड़ा हो गया है आखिरकार वर्ग में थाने से कुछ मीटर दूरी स्थित मुख्य बाज़ार मार्ग पर पुलिस टीम आखिरकार कहां थी जबकि हमेशा से रेलवे स्टेशन के आसपास पुलिस टीम मौजूद रहती है तो क्या यह माना जाए कि बरगवां की कमान संभाल रहे दरोगा साहब बरगवां थाना क्षेत्र के कानून व्यवस्था को संभाले में असफल है या अपराधियों के हौसले इनके आने से बुलंद हो चुके हैं

खुद को कानून से ऊपर मानते हैं भगवती मानव कल्याण संगठन के लोग

सिंगरौली जिले में जिस तरह से लगातार भगवती मानव कल्याण संगठन के द्वारा घटित घटनाओं में लगातार वृद्धि हो रही है उस पर से तो यही लगता है कि भगवती मानव कल्याण संगठन के लोग अपने आप को कानून से ऊपर मानते हैं जिन्हें न तो कानून का कोई भय है और ना ही इन्हें रोकने वाला कोई है कुछ माह पूर्व में भी सराय थाना क्षेत्र अंतर्गत शराब व्यवसाई के साथ में इस तरह की घटना सामने आई थी जिसके बाद से भगवती मानव कल्याण संगठन की सैकड़ों लोगों ने थाने का घेराव कर दिया था जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर संबंधित शराब कारोबारी को सलाखों के पीछे पहुंचाया था इतना ही नहीं सर आई में भगवती मानव कल्याण संगठन के द्वारा पकड़ी गई शराब के पीछे जो स्थानीय ग्रामीणों ने बयान दिया था वह भी बिल्कुल आरोपों से परे था चश्मदीदों ने उस घटनाक्रम के संबंध में यह बताया था कि भगवती मानव कल्याण संगठन के द्वारा शराब कारोबारी की गाड़ी के आसपास शराब की कई बेटियां स्वयं ला कर रखी थी आज इसे थाने में यह सिद्ध कर दिया गया कि शराब कारोबारी इन शराब को अवैध तरीके से सप्लाई कर रहे थे अब शायद इस मामले पर जांच होती और दोषियों पर कार्रवाई होती तो दूध का दूध और पानी का पानी हो सकता था परंतु प्रशासन की निरंकुशता के चलते अब कारोबारी अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं ।

इनका कहना है

बीती रात शराब कारोबारी के साथ हुई मारपीट के बाद से मामले को लेकर पुलिस विभाग एक्शन के मूड में आ गया है मामले पर मोरवा एसडीओपी राजीव पाठक ने कहा कि अपराध करने वाले अपराधी बख्शे नहीं जाएंगे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button