धर्म/संस्कृतिसिंगरौलीसोनभद्र

जय माता दी के नारों से गूजता रहा ऊर्जांचल।

ज्वालामुखी मंदिर से निकली भव्य शोभायात्रा।

शक्तिनगर। आदि शक्तिपीठ मां ज्वालामुखी दिव्य अखंड ज्योति वार्षिकोत्सव के उपलक्ष में शनिवार को भव्य शोभायात्रा माता रानी के दरबार से ज्वालामुखी कॉलोनी, पीडब्ल्यूडी मोड़, एनसीएल खड़िया कॉलोनी से एनटीपीसी आवासीय परिसर होते हुए शक्तेश्वर महादेव मंदिर पर पूजन कर संपन्न हुआ। शोभायात्रा में  बाइक सहित चार पहिया गाड़ियों की लंबी कतार के बीच भक्ति गानों पर श्रद्धालु थिरकते दिखे। जय माता दी के जयकारों से समूचा ऊर्जांचल गूंज उठा।

दिव्य अखंड ज्योति वार्षिकोत्सव और सामूहिक विवाह कार्यक्रम से एक दिन पूर्व शनिवार को भव्य शोभायात्रा निकालकर आसपास के मंदिरों में देवी देवताओं को सामूहिक विवाह कार्यक्रम का निमंत्रण सौंपा गया और कार्यक्रम को सुचारू रूप से संपन्न कराने के लिए पूजा अर्चना किया गया।

सामूहिक विवाह कार्यक्रम में नवदंपति को आशीर्वाद देंगी सिंगरौली की बेटी रिती पाठक।

आदि शक्ति पीठ मां ज्वालामुखी मंदिर मुख्य पुजारी श्लोकी प्रसाद मिश्र ने बताया कि हिमाचल प्रदेश कांगड़ा ज्वालामुखी देवी के यहां से दिव्य अखंड ज्योति लाकर माता रानी के दरबार में स्थापित कराया गया था। तब से प्रत्येक स्थापना वर्ष के दिन आसपास के निर्धन परिवारों के बच्चों का विवाह सामूहिक कार्यक्रम के रूप में जन सहयोग के माध्यम से कराया जाता है। तत्पश्चात महाप्रसाद के रूप में भंडारे का आयोजन किया जाता है। रविवार को 11 जोड़ें मंत्र उच्चारण के बीच वर वधु सात फेरे लेकर एक दूसरे के हो जाएंगे। सभी जोड़ों के लिए लहंगा चुनरी और पैंट शर्ट से लेकर सुहाग और शादी की लगभग सभी आवश्यक वस्तु उपहार स्वरूप सौंपे जाएंगे। 11 दूल्हे 11 गाड़ियों में सवार होकर सामूहिक विवाह स्थल पहुंचेंगे जहां 11 दुल्हने जयमाला पहनाकर वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच सात फेरे लेकर उपस्थित अतिथियों से आशीर्वाद ग्रहण करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button