सिंगरौलीसोनभद्र

अनियंत्रित कोल परिवहन पर नहीं कसी गई नकेल तो होगा चक्का जाम: संयुक्त मोर्चा।

तिरपाल से ढककर कोयला परिवहन और सड़क पर पानी का छिड़काव महज खानापूर्ति।

शक्तिनगर। नार्दन कोलफील्ड के कोयला खदानों से हो रही कोल परिवहन के कारण समूचे परिक्षेत्र में सड़कों पर उड़ती कोयले की धूल के कारण आम जनमानस का जीवन नारकीय हो गया है। अनियंत्रित गति से दौड़ते बेकाबू ट्रेलरों के कारण सड़कों पर चलना दूभर हो गया है। दूधिचुआ कोयला खदान मोड से लेकर खड़िया बाजार तक उड़ती धूल के गुबार के कारण रहवासियों के सांसों में जहर घुल रहा है और आए दिन आम जनमानस गंभीर बीमारियों से ग्रसित हो रहे हैं। इसके अलावा बेकाबू ट्रेलरों के चपेट में आकर आए दिन किसी न किसी घर के चिराग दम तोड़ रहे हैं। अनियंत्रित कोल परिवहन पर नकेल कसने एवं ठोस निष्कर्ष निकालने हेतु जिला पंचायत सदस्य पानपति देवी, चिल्काडांड ग्राम प्रधान हीरालाल के निर्देशन में अंबेडकर नगर व्यापार मंडल अध्यक्ष मनोज गुप्ता व महामंत्री योगेश सिंह ने शक्ति नगर थाना प्रभारी को एसएसआई संतोष यादव के माध्यम से ज्ञापन सौंपकर अवगत कराया कि यदि एक सप्ताह के अंदर एनसीएल खड़िया, एनसीएल दूधिचुआ प्रबंधन व कोल ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के बीच वार्ता कर ठोस निष्कर्ष नहीं निकालता है तो सड़कों पर नगर वासियों द्वारा कोल परिवहन को पूरी तरह चक्का जाम किया जाएगा।

कोल परिवहन के कारण मुख्य मार्ग से सटे व्यापारियों के धंधे पर भी प्रतिकूल असर पड़ रहा है। वहीं आम जनमानस अपनी जान हथेली पर रखकर मुख्य मार्ग से यात्रा करने को विवश है। एनसीएल दूधिचुआ प्रबंधन द्वारा कोल परिवहन की गाड़ियों को जयंत शक्तिनगर मुख्य मार्ग पर खड़ी करने के कारण आए दिन जाम लगने की समस्या जग जाहिर है और तिरपाल से ढक कर कोल परिवहन करने की पोल सड़कों पर गिरते कोयले के बोल्डर खोल देते हैं।

एनजीटी, प्रशासनिक या एनसीएल आला अधिकारियों के दौरे के समय दिखावे के तौर पर एकाद दिन मुख्य मार्ग पर पानी का छिड़काव किया जाता है परंतु अधिकारियों के दौरे खत्म होते ही सारी तैयारियां महज खानापूर्ति लगती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button