कारोबारमध्यप्रदेशसिंगरौली

एनसीएल की होल्डिंग कंपनी कोल इंडिया का एक्सेंचर सॉल्यूशंस के साथ हुआ अनुबंध।

डिजिटलीकरण से एनसीएल की कोयला खदानों की उत्पादकता होगी और भी बेहतर।

सिंगरौली। कोयला खदानों में डिजिटाईजेशन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सोमवार को एनसीएल की होल्डिंग कम्पनी, कोल इंडिया लिमिटेड ने एक्सेंचर सल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड के साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर किए।

Image Source : NCL PRO Office

समझौता पत्र पर कोल इंडिया की ओर से निदेशक (तकनीकी) विनय दयाल, निदेशक (तकनीकी/परियोजना एवं योजना ) एनसीएल एसएस सिन्हा तथा निदेशक (तकनीकी/परियोजना एवं योजना ) एसईसीएल ने एक्सेंचर सल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड के प्रतिनिधियों के साथ हस्ताक्षर किए।

इस अनुबंध के तहत एक्सेंचर सल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड, कोल इंडिया की अनुषंगी कंपनी एसईसीएल और एनसीएल की चयनित खदानों में उत्पादन एवं उत्पादकता की बेहतरी के लिए खदानों के अनुरूप डिजिटलीकरण हेतु सलाहकार की नियुक्ति करेगी।

इस अवसर पर कोलइंडिया अध्यक्ष प्रमोद अग्रवाल, सीएमडी एनसीएल प्रभात कुमार सिन्हा, निदेशक (तकनीकी), सीआईएल विनय दयाल, निदेशक – विपणन /कार्मिक, सीआईएल एसएन तिवारी, निदेशक-वित्त , सीआईएल समीरन दत्ता, एसईसीएल व एनसीएल के कार्यकारी निदेशक मण्डल तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण वर्चुअल माध्यम से उपस्थित रहे।

गौरतलब है कि अनुबंध के अनुसार एक्सेंचर, एनसीएल की निगाही, जयंत, दूधिचुआ व खड़िया खदानों के साथ ही एसईसीएल की चुनिंदा खदानों में डिजिटलीकरण के माध्यम से उत्पादकता में सुधार हेतु कार्य करेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button